SATNA : होटल के कमरे से पकड़े गए फर्जी आयकर अफसर : चार आरोपियों में दो हैं नाबालिग


सतना. आयकर विभाग की धौंस बताकर पंचायत सचिवों को ठगने आए चार आरोपियों को सिविल लाइन पुलिस ने होटल के कमरे से पकड़ा है। इनमें दो नाबालिग शामिल हैं। सभी आरोपी सिवनी जिले के रहने वाले हैं। इनके कब्जे से एक कार सहित न्यूज चैनल की माइक आइडी जब्त हुई है।

ठगी के आरोपियों ने जिले की उचेहरा जनपद की ग्राम पंचायत के सचिवों को अपना निशाना बनाया था। ग्राम पंचायत वीरपुर के सचिव मनोज सिंह गहरवार पुत्र राजेश्वर सिंह (40) को सोमवार की सुबह करीब 10 बजे मोबाइल पर एक कॉल आया। उन्हें बताया गया कि उनके खिलाफ आयकर की जांच होनी है। फोन करने वाले ने उन्हें आयकर विभाग से होना बताकर जांच को दबाने के लिए सौदेबाजी करते हुए मोटी रकम मांगी। मनोज ने असमर्थता जताई तो फोन करने वाले ने आकाश नामदेव का बैंक खाता नंबर उनके व्हाट्सएप पर भेज कर 50 हजार रुपए मांगे। बातचीत में ही मनोज को शक हो गया तो उन्होंने आमने-सामने डील की बात कही। फोन करने वाला राजी हो गया। उसने मो. अरशद खान का आधार कार्ड भेज कर होटल में कमरा बुक करने को कहा। सचिव मनोज ने सिविल लाइन के शिवम होटल में कमरा नंबर 4 बुक कर दिया।

रात एक बजे आए आरोपी
सोमवार और मंगलवार की दरमियानी रात करीब 1 बजे दो नाबालिग सहित चार लोग एमपी 22 एच 0102 नंबर की कार से होटल पहुंच कर उसी कमरे में रुक गए। सुबह मनोज ने होटल जाने से पहले पुलिस को इसकी सूचना दी। सिविल लाइन टीआइ सत्येन्द्र मोहन उपाध्याय ने सादे कपड़ों में दो लोगों को होटल भेजा। जैसे ही कथित आरोपियों ने मनोज से पैसे लिए पुलिस ने उन्हें दबोच लिया। इस दौरान टीआइ उपाध्याय भी वहां पहुंच गए उन्होंने चारों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की तो पता चला कि सभी सिवनी जिले के हैं। इनके कब्जे से एक न्यूज चैनल की माइक आइडी मिलने पर जब सवाल किए गए तो दो और मामलों का खुलासा हुआ।

सामने आते गए सचिव
आरोपियों ने उचेहरा जनपद की ग्राम पंचायत गढ़ोली के सचिव विप्लव सिंह परिहार को न्यूज चैनल का संपादक बनकर फोन किया था और उनसे 25- 50 हजार रुपए मांगे थे। इन्हें भी पैसा देने होटल में बुलाया गया था। इनसे कहा गया था कि हर साल गिफ्ट देते हो इस बार नहीं दिया। इसके अलावा आरोपियों ने पंचायत सचिव संघ उचेहरा के अध्यक्ष दीपक ज्योति सेन को भी आयकर अधिकारी बनकर फोन किया था और लेनदेन के लिए होटल में बुलाया था। दीपक सेन लोहरौरा पंचायत के सचिव हैं। उन्हें कहा गया था कि उनके तथा उनके सरपंच के खिलाफ जांच है।

यह आरोपी पकड़े गए
पुलिस ने रामकुमार धुर्वे पुत्र स्व. नंदन लाल (45) निवासी कुथिवाड़ा थाना केवलारी जिला सिवनी एवं मोहम्मद अरशद खान पुत्र स्व. अब्दुल करीम खान (22) निवासी कानीवाड़ा जिला सिवनी सहित 17 वर्षीय दो नाबालिगों को हिरासत में लेकर कार्यवाही शुरू कर दी है। इस संबंध में पंचायत सचिव मनोज सिंह गहरवार द्वारा आवेदन दिया गया है कि सचिव विप्लव सिंह एवं दीपक सेन सहित उन्होंने मिलकर राशि इकट्ठा कर इन आरोपियों को दी। उनका कहना है कि गत दिवस फोन करके उनसे जांच दबाने के नाम पर एक लाख रुपए मांगे गए थे। इस मामले में आरोपियों के खिलाफ आइपीसी की धारा 419, 420, 170 के तहत अपराध कायम किया गया है।
Powered by Blogger.