यात्रीगण कृपया ध्यान दें, अगर ट्रेन में सफर करने जा रहे हैं तो पढ़ ले ये खबर : कैंसिल कर दी गई हैं ये ट्रेनें


रतलाम। पंजाब में बीते 50 दिन से चले आ रहे किसान आंदोलन के चलते रेलवे को 1,670 करोड़ का नुकसान हुआ है। यह नुकसान 1,986 यात्री ट्रेनों और 3,090 मालगाड़ियों को रद्द करने की वजह से हुआ है। सूत्रों ने बताया कि फिलहाल ट्रेन सेवाएं निलंबित रहेंगी। जानकारी के लिए बता दें कि मंगलवार को रेलवे को चार गाड़ियों को शॉर्ट टर्मिनेट करके चलाना पड़ा। वहीं श्रीमाता वैष्णोदेवी कटरा-डॉ. आबंडेकर नगर-श्रीमाता वैष्णोदेवी कटरा ट्रेन को निरस्त करना पड़ा।

इस गाड़ी को किया गया निरस्त

18 नवंबर को महू से चलने वाली 02919 डॉ. आंबेडकर नगर-श्रीमाता वैष्‍णोदेवी कटरा एक्‍सप्रेस तथा 20 नवंबर को श्री माता वैष्णोदेवी कटरा से चलने वाली श्री माता वैष्णोदेवी कटरा-डॉ. आंबेडकर नगर एक्सप्रेस नहीं चलेगी। साथ ही साथ मंगलवार को चलने वाली 02903 मुंबई सेंट्रल-अमृतसर स्‍पेशल एक्‍सप्रेस अंबाला स्‍टेशन तक ही जाएगी।

इसके आगे अंबाला से अमृतसर तक निरस्त रहेगी। वापसी में 02904 अमृतसर-मुंबई सेंट्रल स्‍पेशल भी मंगलवार और बुधवार को अंबाला से ही चलेगी। अमृतसर से अंबाला के बीच निरस्त रहेगी।

करोड़ो का नुकसान

प्रदर्शनों के चलते रेलवे को रोजाना मालभाड़े में करीब 36 करोड़ का नुकसान हो रहा है। एक अक्तूबर से 15 नवंबर के बीच मालभाड़े में भारी नुकसान हुआ है। जरूर वस्तुओं को लेकर जम्मू-कश्मीर और लद्दाख जाने वाली कई ट्रेनें पंजाब के बाहरी हिस्सों में फंसी पड़ी हैं। कोयले की 520 रैकों की पंजाब के पांच बिजली संयंत्रों को आपूर्ति की जानी थी, मगर फंसी होने के नाते 550 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है।

हमारी लेटेस्ट खबरों से अपडेट्स रहने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

FACEBOOK PAGE INSTAGRAMGOOGLE NEWS ,TWITTER

मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ जुड़े हमसे

Powered by Blogger.