REWA : जरूरी खबर : कालेजों में अगर मूल दस्तावेज जमा नहीं किया तो तुरंत करें नहीं तो प्रवेश हो जाएगा निरस्त : ये है अंतिम तारीख़


रीवा। उच्च शिक्षा विभाग द्वारा कालेजों में छात्रों को दिए गए प्रवेश के बाद अब उनके मूल दस्तावेज जमा कराए जाने का निर्देश दिया गया है। जिन कालेजों में छात्रों ने प्रवेश लिया है वहां पर पहुंचकर अपने वास्तविक दस्तावेज जमा कराएंगे। ऐसा नहीं करने वाले छात्रों का प्रवेश स्वत: निरस्त हो जाएगा।

इसके लिए अब दोबारा अवसर नहीं दिया जाएगा। उच्च शिक्षा विभाग की ओर से भी कालेजों के साथ ही अतिरिक्त संचालक को पत्र भेजकर कहा गया है कि कालेजों में छात्रों के पहुंचने पर दस्तावेजों को जमा कराने की व्यवस्था बनाने के लिए कहा गया है। 

इस वर्ष कालेजों में प्रवेश लेने वाले छात्रों के लिए कई नई प्रक्रियाएं अपनाई गई। जिसके तहत आनलाइन प्रवेश की पूरी प्रक्रिया हुई, छात्रों को कालेज जाने की अनुमति नहीं थी। प्रवेश के समय छात्रों ने आनलाइन रजिस्ट्रेशन कराने के बाद दस्तावेजों का सत्यापन अपने नजदीकी कालेजों में सत्यापित कराया था। उसके आधार पर प्रवेश तो दे दिया गया है लेकिन जिन कालेजों में प्रवेश मिला है वहां पर मूल दस्तावेज अभी तक जमा नहीं कराए गए हैं। इसलिए उच्च शिक्षा विभाग ने कक्षाएं प्रारंभ होने से पहले अब छात्रों के मूल दस्तावेज जमा कराए जाने का निर्देश दिया है।

24 से शुरू होगा दस्तावेज जमा कराने का क्रम
आनलाइन चरण और सीएलसी के चौथे चरण तक जिन छात्रों को प्रवेश मिला है उन्हें दस्तावेज जमा कराए जाने के लिए 24 नवंबर से कालेज बुलाया जाएगा। पहले यह तिथि 18 नवंबर से थी लेकिन सीएलसी का पांचवां चरण 23 नवंबर तक होने की वजह से कालेजों में छात्रों की भीड़ जुट रही है। जिसकी वजह से अब 24 नवंबर से लेकर 12 दिसंबर तक छात्र अपने प्रवेश वाले कालेज में पहुंचकर मूल टीसी, माइग्रेशन एवं अन्य दस्तावेजों का सत्यापन कराने के बाद जमा कराएंगे। 

सोशल डिस्टेंसिंग रोकने के होंगे प्रयास
आनलाइन प्रवेश के समय जिन छात्रों का दस्तावेज आनलाइन सत्यापित नहीं हो रहा था, वह कालेज पहुंच रहे थे। ऐसे में बड़ी संख्या में छात्र पहुंचे थे, जिससे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो पाया था। इसलिए अब कहा गया है कि कालेजों में मूल दस्तावेज जमा कराने आने वाले छात्रों की भीड़ नहीं जुटे इसके लिए इंतजाम प्रबंधन को करने होंगे। साथ ही एक साथ छात्र कालेज नहीं आए, इस कारण अलग-अलग समय पर दस्तावेज जमा कराने के लिए उन्हें बुलाना होगा। 

सीएलसी चरण में सीटें भरी होने के बाद भी उम्मीद लेकर पहुंच रहे छात्र
कालेजों में सीएलसी का पांचवा चरण शुरू किया गया है। जिसमें हर दिन सूची जारी की जाती है। माडल साइंस कालेज, टीआरएस कालेज, सदाशिवराव गोलवरकर कालेज और जीडीसी में सबसे अधिक डिमांड है। इन कालेजों में कुछ कक्षाओं में सीटें हैं शेष भर चुकी हैं। फिर भी प्रवेश की उम्मीद लेकर हर दिन कालेजों में छात्रों की भीड़ जमा हो रही है। टीआरएस कालेज में 60 प्रतिशत से कम अंक वालों का प्रवेश नहीं हो रहा है, सीटें खाली हैं। सीएलसी का यह चरण आगामी 23 नवंबर तक चलेगा। जीडीसी में जिले के बाहर से भी छात्राएं प्रवेश के लिए आ रही हैं लेकिन उन्हें प्रवेश नहीं मिल पा रहा है, जिसकी वजह से हंगामा भी हो रहा है। 

कोरोना संक्रमण की वजह से छात्रों को आनलाइन प्रवेश दिए गए हैं। अब उन्हें अपने मूल दस्तावेज जमा कराने के लिए 12 दिसंबर तक का अवसर दिया गया

हमारी लेटेस्ट खबरों से अपडेट्स रहने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

FACEBOOK PAGE INSTAGRAMGOOGLE NEWS ,TWITTER

मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ जुड़े हमसे

Powered by Blogger.