शिवराज का तंज- कमलनाथ ने 15 महीनों में मध्यप्रदेश का सत्यानाश कर दिया

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि मुझे पिछले 12 घंटों से खबरें आ रही हैं कि उन्होंने पैसों का और शराब का उपयोग करना शुरू कर दिया है। किस प्रकार खुलेआम पैसा बांटा जा रहा है। शराब बांटी जा रही है। भारतीय लोकतंत्र का जब भी इतिहास लिखा जाएगा, उसमें मध्यप्रदेश के उपचुनाव का एक पन्ना जरूर होगा। उसमें गद्दारों का नाम काले अक्षरों में लिखा जाएगा।

भाजपा पिट रही है

कमलनाथ ने कहा कि किस तरह प्रशासन और पुलिस का दबाव और उपयोग किया जा रहा है। इससे यह स्पष्ट हो रहा है कि भाजपा पिट रही है। मैं कहना चाहता हूं कि अब इनकी सौदेबाज़ी की सरकार का अंतिम समय आ गया है। इस चुनाव में यह सिद्ध हो गया है कि जनता को महल की जरूरत नहीं है। महल को जनता की जरूरत है। यह चुनाव सच्चाई और झूठ का है और मुझे मध्यप्रदेश के मतदाताओं पर खासकर इन 28 उप चुनाव क्षेत्रों के मतदाताओं पर पूरा विश्वास है कि वह सच्चाई पहचान कर मध्य प्रदेश की तस्वीर अपने सामने रखकर सच्चाई का साथ देंगे।

मुझे दुख है

कमलनाथ ने कहा कि मुझे ताज्जुब व दुःख है कि शिवराज कहते हैं कि मैंने उन्हें कमीना कहा। ज्योतिरादित्य सिंधिया कहते कि मैंने उन्हें कुत्ता कहा? इसका कोई प्रमाण, कोई रिकॉर्डिंग, कोई सबूत हो तो मुझे दे दे। मैंने ऐसे शब्दों का उपयोग कभी नहीं किया। शिवराज सिंह ने झूठ बोलने की हद कर दी, चुनाव के एक दिन पहले तक वह झूठ बोलने से बाज नहीं आ रहे हैं।

अभी-अभी उन्होंने कहा है कि कमलनाथ पापी है, मैंने तो पूछा कि मैंने कौन सा पाप किया। शिवराज जवाब में कहते हैं कि कमलनाथ ने कर्जा माफ नहीं किया, जबकि उनकी सरकार ने विधानसभा में ख़ुद स्वीकारा है कि 27 लाख किसानों का कर्ज माफ हुआ है। कर्ज माफी का तीसरा चरण भी प्रारंभ होने जा रहा था। कहते हैं कि मैंने बच्चों की पढ़ाई का पैसा रोक लिया। एक-एक बात उनकी झूठी है, तो मुझे आश्चर्य होता है कि कितनी बेशर्मी से ये इतना झूठ बोल लेते हैं।

शिवराज ने दिया जवाब

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कमलनाथ मध्यप्रदेश को तबाह और बर्बाद करके पूछ रहे हैं कि मैंने क्या पाप किया? आपने प्रदेश के किसानों से किया वादा पूरा नहीं किया। युवाओं और माताओं-बहनों के साथ छल किया। कमलनाथ आपने 15 महीनों में मध्यप्रदेश का सत्यानाश कर दिया। यही आपका पाप था और इसी की सजा आपने भुगती है।

Powered by Blogger.