केंद्र सरकार की पहल : अब सिर्फ एक कॉल पर पाए Jan Dhan Yojana से जुड़ी हर जानकारी : ये हैं Toll Free Numbers

देश के हर नागरिक तक सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री जनधन योजना की शुरुआत की गई है। इसके तहत सरकारी एवं निजी बैंकों में जनधन खाते खुलवाए गए हैं। इन खातों में पीएम उज्जवला योजना पीएम किसान योजना सहित अन्य सरकारी योजनाओं का लाभ ऑनलाइन प्रक्रिया के जरिए सीधे पहुंचाया जा रहा है। कोरोना संकट के दौरान बीते कुछ महीनों में सरकार ने करोड़ो लोगों के जनधन खातों में विभिन्न योजनाओं का लाभ पहुंचाया है। इस योजना से जुड़ी किसी भी जानकारी के लिए केंद्र सरकार द्वारा हर राज्य के लिए एक टोल फ्री नंबर जारी किया गया है। देश के हर शख्स के पास सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंच सके इस मंशा से केंद्र सरकार ने पीएम जनधन योजना की शुरुआत की थी। इस योजना के अंतर्गत जिन लोगों के पास बैंक खाते नहीं थे उनके बैंक अकाउंट खुलवाए गए, जिससे सरकारी योजनाओं में मिलने वाली आर्थिक मदद सीधे इन खातों में पहुंच सके। पीएम जनधन योजना के अंतर्गत खाता पब्लिक सेक्टर बैंक में खाता खुलवाने ज्यादा लोग पहुंचते हैं, लेकिन प्राइवेट बैंकों में भी जनधन खाता खुलवाया जा सकता है। इतना ही नहीं अगर किसी के पास अन्य बचत खाता है तो उसे जनधन खाते में बदला जा सकता है।

राज्यवार टोल फ्री नंबर की ये है सूची

राज्य टोल फ्री नंबर

अंडमान एवं निकोबार - 18003454545

आंध प्रदेश - 18004258525

अरुणाचल प्रदेश - 18003453616

असम - 18003453756

बिहार - 18003456195

चंडीगढ़ - 18001802020

छत्तीसगढ़ - 18002334358

दादर एवं नागर हवेली - 18002331000

एमन एवं दीव - 18002331000

गोवा - 18002333202

गुजरात - 18002331000

हरियाणा - 18001802020

हिमाचल प्रदेश - 18001808053

ओडिशा - 18003456551

पुंडुचेरी - 18004250016

पंजाब - 18001802020

जम्मू कश्मीर - 18001800235

झारखंड - 18003456576

कर्नाटक - 180043000000

केरल - 180043000000

लक्षदीप - 180043000000

मध्यप्रदेश - 18002334035

महाराष्ट्र - 18001022636

मणिपुर - 18003453858

मेघालय - 18003453658

मिजोरम - 18003453660

नगालैंड - 18003453708

दिल्ली - 18001800124

राजस्थान - 18001806546

सिक्किम - 18003453256

तमिलनाडु - 18004254415

तेलंगाना - 18004258933

त्रिपुरा - 18003453343

उत्तर प्रदेश - 18001027788

उत्तराखंड - 18001804167

पश्चिम बंगाल - 18003453343

जनधन खाते का यह है फायदा

जो भी व्यक्ति अपना जनधन खाता खुलवाता है उसे योजना से जुड़े विशेष लाभ मिलते हैं। इसमें जमा राशि पर मिलने वाले ब्याज के अलावा एक लाख रुपए का दुर्घटना बीमा कवर भी होता है। इसमें खाते में कोई भी न्यूनतम राशि रखना अनिवार्य नहीं है। खाताधारक की मौत होने पर परिवार को 30 हजार की राशि प्रदान की जाती है। इस खाते में परिवार की महिलाओं के लिए 5 हजार रुपए तक के ओवरड्राफ्ट की सुविधा है।

कोरोना काल में खातों के जरिए मदद

दुनिया के अन्य देशों के साथ ही भारत में भी कोरोना महामारी ने जमकर कहर बरपाया। इस घातक संक्रमण को तेजी से फैलने से रोकने के लिए केंद्र सरकार ने 25 मार्च से 31 मई तक टोटल लॉकडाउन किया था। इस दौरान आर्थिक तौर पर कमजोर लोगों को सरकारी योजनाओं का लाभ देते हुए आर्थिक मदद करने के लिए जन धन खातों का ही इस्तेमाल किया गया था।

इन प्राइवेट बैंकों में खुलता है जनधन खाता

HDFC बैंक ,ICICI बैंक, Axis बैंक

Federal बैंक, Yes बैंक, ING बैंक

Kotak Mahindra बैंक, Karnataka बैंक, IndusInd बैंक, DhanLaxmi बैंक

जनधन बैंक खाते को देश में रहने वाला कोई भी नागरिक खुलवा सकता है। इसके लिए उम्र 10 साल या उससे ज्यादा होना चाहिए। जनधन खाता खुलवाने के लिए ख़्ज्ञ्क् के तहत डॉक्यूमेंट्स का वैरिफिकेशन जरूरी है। इन दस्तावेजों को देकर खाता खुलवाया जा सकता है।

आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, पैन कार्ड

ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, मनरेगा जॉब कार्ड/राशन कार्ड

जनधन खाते का यह है फायदा

- जनधन खाते में जमा राशि पर ब्याज मिलता है।

- खाता धारक को निशुल्क मोबाइल बैंकिंग सुविधा मिलती है।

- खाताधारक अपने अकाउंट से 10 हजार रुपए तक ओवरड्राफ्ट कर सकता है।

- इस खाते में दो लाख रुपए तक का निशुल्क दुर्घटना बीमा होता है।

बचत खाते को ऐसे जनधन खाते में बदलें

सरकार द्वारा आम जनता को यह सुविधा भी दी गई है कि वह अपने बचत खाते को जन धन खाते में तब्दील करा सकते हैं। इसके लिए एका आसान प्रक्रिया का पालन करना होगा। यह काम ऑनलाइन नहीं हो सकता, इसके लिए बैंक जाना अनिवार्य होता है।

बैंक जाकर वहां एक फॉर्म भरना होता है इसके बाद इस खाते के एवज में ङद्वघ्ठ्ठन्र् कार्ड के लिए आवेदन करना होगा। फॉर्म भरने के बाद बैंक को सबमिट करें। कुछ वक्त बाद खाता जनधन अकाउंट में तब्दील हो जाएगा।

Powered by Blogger.