MP में UK से 365 लोग लौटे भोपाल में 44 और इंदौर में 96 का टेस्ट : दिल्ली और पुणे की लैब में गई जांच रिपोर्ट

मध्य प्रदेश की राजधानी के 44 व्यक्तियों समेत पूरे प्रदेश से 365 लौग ब्रिटेन से लौटे हैं। इनमें से इंदौर में 96 लोगों की जांच की गई है, वहीं राजधानी भोपाल में 44 का कोविड टेस्ट किया गया। इसमें इंदौर में 2 और भोपाल-ग्वालियर में एक-एक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनकी रिपोर्ट को नए स्ट्रेन के एंगल से जांचने के लिए दिल्ली और पुणे की लैब भेजा गया है। यहां से रिपोर्ट आने में कुल 5 दिन लगेंगे।

ब्रिटेन से आए युवक की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद स्ट्रेन की जांच के लिए दिल्ली भेजे गए सैंपल की जांच रिपोर्ट शनिवार तक आने की उम्मीद है। गांधी मेडिकल कॉलेज की डीन डॉ. अरुणा कुमार ने बताया कि उक्त जांच की प्रक्रिया दो चरणों में होती है। पहले चरण में दो दिन और तीसरे चरण में 3 दिन लगते हैं। ऐसे में सैंपल की जांच प्रक्रिया कुल 5 दिन की है। राजधानी में पॉजिटिव मिले ब्रिटेन से आए यात्री की कोरोना रिपोर्ट रविवार को पॉजिटिव आने के बाद उसका सैंपल सोमवार शाम एअर इंडिया की फ्लाइट से दिल्ली भेजा गया है। ऐसे में इसकी जांच रिपोर्ट शनिवार तक आने का अनुमान है।

UK से 44 भोपाली लौटे, जिसमें एक की रिपोर्ट पॉजिटिव

राजधानी में अब तक 64 यात्री ब्रिटेन से आए हैं। इनमें से 44 भोपाल के और 20 दूसरे शहरों के शामिल हैं। दूसरे शहरों के यात्री अपने शहरों को चले गए हैं। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग ने शहर के 44 यात्रियों के कोरोना सैंपल लेकर जांच कराई थी। इनमें से 43 की रिपोर्ट निगेटिव और एक मरीज की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

सुपर स्प्रेडर माना जा रहा नया स्ट्रेन, इसलिए घबराहट ज्यादा

इंदौर में छख़् से आए 96 यात्रियों की जांच स्वास्थ्य विभाग की सैंपलिंग टीम कर चुकी है। दो की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। कोरोना का नया स्ट्रेन सुपर स्प्रेडर माना जा रहा है इसलिए इसे लेकर डर ज्यादा है। इंदौर में ब्रिटेन से लौटे जिन दो यात्रियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, उनमें से एक होम आइसोलेशन में ही रखा गया है, जबकि दूसरे को सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में भर्ती किया गया है। दोनों में ही बीमारी का कोई लक्षण सामने नहीं आया है

यूके से 365 लोग लौटे, 5 पॉजिटिव मिले हैं

ग्घ् के स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी ने बताया कि नए स्ट्रेन से निपटने के लिए सरकार पूरी तरह से मुस्तैद है। जो भी यात्री छख़् से आए हैं, सबको आईडेंटिफाई किया जा रहा है। उन सबके टेस्ट किए जा रहे हैं। करीब 365 लोगों के टेस्ट करा रहे हैं। उनकी कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग भी की जा रही है।

इनमें से जो 5 लोग पॉजिटिव आए थे, उनको लेकर सरकार सतर्क है। इनके टेस्ट करके दिल्ली और पुणे की लैब में जांच कराने के लिए भेजा गया है। उनका कोविड का इलाज भी चल रहा है। साथ ही स्वास्थ्य विभाग का अमला उनका ध्यान रख रहा है। ब्रिटेन से जो नया स्ट्रेन आया है, सबको आइसोलेट किया गया, जिससे वह आगे न बढ़ पाए। नए स्ट्रेन को लेकर पूरी मुस्तैदी बरती जा रही है और हमारी पूरी तैयारी है।

Powered by Blogger.