REWA : CM शिवराज ने रीवा कलेक्टर की तारीफ तो भू माफियाओं के विरूद्ध कड़ी से कड़ी कार्यवाही के दिए निर्देश



रीवा. कलेक्टर रीवा इलैया राजा टी की मिलावट मुक्त अभियान की मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने तारीफ की है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश शांति का टापू है। यहां किसी भी प्रकार के अपराध या अपराधियों को पनपने नहीं दिया जाएागा। रीवा जिले में माफियाओं के विरूद्ध की गई कार्यवाही की मुख्यमंत्री ने प्रशंसा की। अफसरों ने मुख्यमंत्री को जानकारी दी है कि रीवा में मिलावटी मुक्त अभियान के तहत 800 नमूने लिए गए हैं। जिसमें 760 नमूने सर्विलांस यानी तत्काल जांच की गई है। इसके अलावा 75 लीगल नमूने लिए गए हैं। जिसमें दो के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराया गया है। 

मुख्यमंत्री ने कहा माफिया के खिलाफ जारी रहेगी कार्रवाई 
मुख्यमंत्री ने अफसरों की प्रसंशा करते हुए माफियाओं के खिलाफ अभियान जारी रखने का निर्देश दिया है। भू माफियाओं के विरूद्ध कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाए। इस बात का ध्यान रहे कि गरीब व छोटे व्यक्ति परेशान न हों। चिटफंड माफिया के खिलाफ प्रभावी कार्यवाही किए जाने के निर्देश देते हुए कहा कि लोगों की जमा पूंजी वापस दिलाने की कार्यवाही कराएं साथ ही राशन माफियाओं के विरूद्ध भी कड़ी कार्यवाही की जाए। 

बेटियों के खिलाफ अपराध न हो 
मुख्यमंत्री ने कहा बेटियों के खिलाफ अपराध न हों इस पर पुलिस सख्त नजर रखे। रीवा स्थित एनआईसी में कमिश्नर राजेश कुमार जैन, आईजी उमेश जोगा, डीआईजी अनिल सिंह कुशवाह, कलेक्टर इलैयाराजा टी, पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार सिंह, आयुक्त नगर निगम मृणाल मीणा, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत स्वप्निल वानखेड़े सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

रीवा में सुंदरजा आम-सुपाड़ी के खिलौने को मिलेगा बढ़ावा 
मुख्यमंत्री समीक्षा के दौरान कहा कि रीवा जिले में सुंदरजा आम के उत्पादन व सुपाड़ी के खिलौने की कला को बढ़ावा दिया जाए। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी गुड गवर्नेंस के लिए कार्य करें तथा प्रचार माध्यमों से विकास की सकारात्मक तस्वीर सामने लाएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि वह प्रत्येक सप्ताह किसी भी जिले का औचक निरीक्षण भी करेंगे। 

सार्वजनिक वितरण प्रणाली का व्यवस्थित संचालन के लिए कसी नकेल 
मुख्यमंत्री ने कहा कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकानों के व्यवस्थित संचालन की सुनिश्चतता कराते हुए नवीन पात्रता पर्चियों का वितरण सुनिश्चित कराया जाए। शहरी व ग्रामीण पथकर विक्रेताओं को लाभ दिलाने के कार्य प्राथमिकता के आधार पर हों। उन्होंने कहा कि स्वसहायता समूहों के माध्यम से महिलाओं को रोजगार देने का कार्य आंदोलन के तौर पर कराया जाए। मेडिकल कालेज व जिला अस्पतालों में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं लोगों को उपलब्ध हों इसके लिए कमिश्नर व कलेक्टर लगातार अस्पतालों का भ्रमण करें।

Powered by Blogger.