अलर्ट : मध्‍य प्रदेश के रीवा, सतना, कटनी, छतरपुर, उज्जैन, विदिशा समेत कई शहरों में तेज बारिश और गरज के साथ होगी बूंदाबांदी

देश के उत्तरी भागों में मौसम की गतिविधियांं कम हो जाने की संम्भावना है हाला की मध्यप्रदेश महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ के कुछ भागो में बेमौसमी बरसात जारी रहेगी। देश में बीती रात अचानक मौसम बदल गया है। मौसम के जानकारों का अनुमान है कि अगले 24 से 36 घंटों के दौरान अभी कई राज्‍यों, शहरों में बारिश की संभावना है। पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी भी हो सकती है जो कि ठिठुरन को और बढ़ाएगी। 

अगले 24 घंटों तक पहाड़ों पर बारिश और बर्फबारी जारी रहेगी। उत्तर भारत के मैदानी शहरों में लोगों को अगले दो-तीन दिनों के दौरान कड़ाके की सर्दी के लिए रहना तैयार होगा। पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, और मध्य प्रदेश के तापमान गिराएंगी। मुंबई सहित महाराष्ट्र, गुजरात और मध्य प्रदेश में बारिश जारी रह सकती है। 

भारतीय मौसम विभाग क्ष्ग्क़् के अनुसार, 13 से 15 दिसंबर के दौरान उत्तर प्रदेश में अलग-थलग इलाकों में बहुत घना कोहरा छा सकता है। अगले 4-5 दिनों के दौरान मध्य प्रदेश, मध्य महाराष्ट्र और 13 से 15 दिसंबर, 2020 के दौरान विदर्भ और छत्तीसगढ़ में छिटपुट वर्षा / गरज के साथ छिटपुट बौछारें पड़ने की संभावना है। मौसम विभाग के मुताबिक दिल्ली, राजस्थान और मध्यप्रदेश सहित कई राज्यों में अगले दो दिन में बारिश के आसार हैं। राजस्थान में 15 दिसंबर के बाद पारा 4 डिग्री तक गिरेगा। यूपी, बिहार में 15-16 दिसंबर को बारिश के आसार हैं। बिहार, ओडिशा, पश्चिम बंगाल और सिक्किम में बारिश व सर्दी का असर बने रहने की संभावना है। पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली और उत्तराखंड में भी बारिश व ठंड रहेगी। जानिये मौसम का ताजा अनुमान।

मध्‍य प्रदेश, महाराष्‍ट्र और गुजरात के इन शहरों में बारिश की संभावना

मध्‍य प्रदेश के आगर मालवा, अलीराजपुर, अशोकनगर, बड़वानी, बैतूल, भोपाल, बुरहानपुर, छतरपुर, छिंदवाड़ा, दमोह, देवास, धार, डिंडौरी, होशंगाबाद, इंदौर, जबलपुर, झाबुआ, कटनी, खंडवा, खरगोन, नरसिंहपुर, पन्ना, रायसेन, राजगढ़, रीवा, सागर, सतना, सीहोर में शाजापुर, शिवपुरी, उज्जैन, विदिशा आदि शहरों में बारिश होगी और गरज के साथ बूंदाबांदी होगी।

महाराष्‍ट्र के अहमदनगर, औरंगाबाद, धुले, जलगाँव, नंदुरबार, नासिक, पालघर, पुणे, रायगढ़ और रत्नागिरी जिलों के कुछ स्थानों पर बारिश और गरज के साथ बौछारें पड़ेंगी।

गुजरात में भरुच, भावनगर, दोहद, नर्मदा, नवसारी, सूरत, तापी, डांग, वड़ोदरा और वलसाड जिलों के कुछ स्थानों पर तेज हवाएं चलेंगी और बारिश होगी।

अब पड़ेगी कड़ाके की ठंड

उत्तर पश्चिमी ठंडी हवाएं पहाड़ों से होकर निचले इलाकों तक आनी शुरू होंगी, जिससे दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तर भारत के मैदानी शहरों में सामान्य से ऊपर पहुंच गए न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज की जाएगी। कई शहरों में न्यूनतम तापमान सामान्य से फिर नीचे चला जाएगा और इनमें कई इलाके ऐसे होंगे जहां पर शीतलहर जैसे हालात भी अगले 24 से 48 घंटे में बन सकते हैं।

अगले 24 से 36 घंटों का अनुमान

अब मैदानी इलाकों में पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश और राजस्थान के लगभग सभी भागों में आसमान साफ और मौसम शुष्क रहने की संभावना है।

राजस्‍थान के क्षेत्रीय मौसम कार्यालय ने जानकारी दी है कि जयपुर, अजमेर, नागौर, कोटा, बारां, बूंदी, झालावाड़ चित्तौड़गढ़, भीलवाड़ा, झुंझुनू, चूरू, सवाईमाधोपुर, करौली जिलों और आसपास के क्षेत्रों में अलग-अलग स्थानों पर हल्की बारिश होने की संभावना है। जयपुर में अलग-अलग स्थानों (जयपुर जिले के पश्चिम भाग), अजमेर (पास के किशनगढ़) जिलों में हल्की बारिश के साथ गरज / बिजली / ओलावृष्टि आदि की संभावना है।

पंजाब के कई जिलों में हरियाणा के कुछ जिलों में तथा दिल्ली में छिटपुट बारिश के साथ साथ दक्षिणी राजस्थान, पश्चिमी मध्य, प्रदेश गुजरात तथा महाराष्ट्र में भी बारिश की संभावना।

गुजरात में सूरत, वलसाड, नवसारी, बड़ौदा, अहमदाबाद, गांधीनगर, पाटन, राजकोट, सोमनाथ, वेरावल जिलों और राजस्थान में उदयपुर, चित्तौड़गढ़, प्रतापगढ़, कोटा जिलों में वर्षा होने की संभावना है।

एक साथ कई मौसमी सिस्टमों के प्रभाव से उम्मीद है कि गुजरात और राजस्थान में बारिश की गतिविधियां देखने को मिलेंगी। 10 दिसम्बर को मौसम सबसे अधिक सक्रिय रहेगा जबकि 11 दिसम्बर को हलचल कम हो जाएगी।गुजरात के लगभग सभी भागों में बारिश होगी जबकि राजस्थान के दक्षिण-पूर्वी भागों में हल्की बारिश के आसार हैं।

दिल्ली एनसीआर में 11 दिसंबर की रात और 12 वीं सुबह बारिश होने की संभावना है। इससे राष्ट्रीय राजधानी में और उसके आस-पास के क्षेत्र में अब तक के सूखे का कहर टूट सकता है। पहाड़ों पर एक नया पश्चिमी विक्षोभ भारी बर्फबारी दे सकता है, निचले इलाकों में मूसलाधार बारिश के साथ ओलावृष्टि के आसार।

जानिये देश के कई राज्‍यों का हाल

दिल्ली, यूपी में 14 दिसंबर से बढ़ेगी ठंड

दिल्ली और उत्तरप्रदेश के कई इलाकों में हल्की बारिश के आसार हैं। इसके बाद 13 दिसंबर से कोहरा छाया रहेगा। 13 दिसंबर को हल्के से मध्यम दर्जे का कोहरा रहेगा, तो वहीं 14 व 15 दिसंबर को घना कोहरा छा सकता है। 14 दिसंबर से ठंडी हवाएं दिल्ली में आने लगेंगी, इससे अधिकतम के साथ न्यूनतम तापमान में भी गिरावट आना शुरू हो जाएगा। 14 से 16 दिसंबर तक दिन में अच्छी खासी ठंड महसूस हो सकती है।

उत्‍तराखंड में यलो अलर्ट जारी

उत्तराखंड में मौसम ने करवट बदली। आज केदारनाथ और बदरीनाथ समेत ऊंची चोटियों पर हिमपात हुआ। मौसम विभाग ने इसको लेकर यलो अलर्ट भी जारी किया हुआ है। इसके अलावा कहीं-कहीं आकाशीय बिजली भी गिर सकती है। नवंबर के अंतिम सप्ताह में प्रदेश में अच्छी बर्फबारी देखने को मिली, लेकिन इसके बाद मौसम शुष्क बना हुआ है। अधिकतम और न्यूनतम तापमान में औसतन तीन से पांच डिग्री सेल्सियस अधिक चल रहा है। राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया शुक्रवार से प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो सकता है। ऐसे में ओलावृष्टि के साथ ही बारिश और बर्फबारी संभव है।

बिहार में 15-16 को होगी बारिश

बिहार में अभी कोहरे से राहत नहीं मिलेगी। सुबह 10 बजे तक ज्यादातर जिलों में घना कोहरा छाएगा। 15-16 दिसंबर को हल्की बारिश के आसार हैं। इसके बाद ही आसमान साफ होगा और रात के तापमान में कमी आएगी और इसके बाद ठंड बढ़ जाएगी।

राजस्थान में घटेगा तापमान

दिसंबर के 10 दिन गुजर गए, लेकिन राजस्थान में दिन-रात का तापमान कम नहीं हो रहा है। मौसम वैज्ञानिकों ने दावा किया था कि ला-नीना के असर से इस बार जोरदार सर्दी पड़ेगी।

पंजाब में होगी शीतलहर

पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी के कारण पंजाब के कई जिलों में अगले दो दिनों में बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग के मुताबिक पठानकोट, गुरदासपुर, अमृतसर, होशियारपुर और नवांशहर में बारिश हो सकती है, 13 और 14 दिसंबर को धुंध और शीतलहर की शुरूआत हो सकती है।

हरियाणा में हल्की बारिश

अगले दो दिनों में हरियाणा के कई इलाकों में हल्की बारिश हो सकती है। इसके बाद पहाड़ों से ठंडक मैदानों की ओर तेजी से बढ़ेगी। 13 और 14 दिसंबर को कई इलाकों में गहरी से गहरी धुंध छा सकती है, जबकि 17 दिसंबर के बाद कड़ाके की सर्दी शुरू हो सकती है।

जम्मू-कश्मीर में बारिश और हल्की बर्फबारी की भी संभावना

जम्मू-कश्मीर में पश्चिमी विक्षोभ का दवाब बना हुआ और पूरे जम्मू-कश्मीर में बादलों और सूर्य के बीच लुकाछिपी का खेल जारी है। शाम तक बादल और घने होने की संभावना है तो कुछ स्थानों पर बारिश और हल्की बर्फबारी की भी संभावना बनी हुई है।जम्मू-कश्मीर में फिलहाल मौसम तो साफ है लेकिन मरम्मत कार्यों के चलते जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग आज बंद किया हुआ है। दिन भर मौसम शुष्क रहने के बाद श्रीनगर, काजीकुंड, पहलगाम, कुकरनाग, भद्रवाह आदि क्षेत्रों में रात को हल्की बूंदाबांदी हुई। पहलगाम और गुलमर्ग का रात का तामपान शून्य से नीचे रहा वहीं। लेह की रात सबसे ठंडी रात रही। न्यूनतम तापमान लुढ़क कर -10.0 डिग्री सेल्सियस तक आ गया।


हमारी लेटेस्ट खबरों से अपडेट्स रहने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

FACEBOOK PAGE INSTAGRAMGOOGLE NEWS ,TWITTER

मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ जुड़े हमसे  

Powered by Blogger.