REWA : चोर से बहुचर्चित गांजा तस्कर बना इरशाद खान, घर सहित अतिक्रमण की जमीन पर चला निगम का बुलडोजर : गांजा के अन्य अवैध कारोबारियों में मचा हड़कंप

ऋतुराज द्विवेदी,रीवा। गांजा तस्कर के रूप में पहचान बनाने वाले शहर के बहुचर्चित इरशाद खान नामक युवक के घर सहित अतिक्रमण की गई जमीन को नगर निगम व पुलिस की संयुक्त कार्रवाई के दौरान जमींदोज कर दिया गया है उक्त कार्रवाई उस समय हुई है जब हाल में ही प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ने किसान सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा था कि मध्य प्रदेश में पुलिस सज्जनों के लिए फूल बनकर और दुर्जनो के विरुद्ध वज्र बनकर काम करेगी। 

सोमवार को की गई कार्रवाई के बाद गांजा के अवैध कारोबार लिक अन्य कारोबारियों में हड़कंप की स्थिति निर्मित हो गई है मामले की जानकारी देते हुए पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार सिंह ने बताया है कि लगातार लंबे समय से इरसाद खान नामक युवक गांजा के अवैध कारोबार में संलिप्त था मुखबिर की सूचना पर से लगातार इस बात की तस्दीक की जा रही थी कि वह अभी भी गांजे के अवैध कारोबार में जुटा हुआ है मादक पदार्थों की तस्करी करने से कमाए गए पैसे से उसने न केवल सरकारी जमीन पर कब्जा किया था बल्कि उस पर घर का निर्माण करके रह भी रहा था कई बार नगर निगम द्वारा उसे जमीन खाली करने की नोटिस भी दी गई लेकिन वह अपने बड़े रसूख के चलते ननि कर्मचारियों को धमका कर वापस भेज देता था। ननि ने पुलिस की सहायता मांग की आज हटाए गए अतिक्रमण में नगर निगम को पुलिस बल मुहैया कराया गया जिसके बाद से मौके पर न केवल कोई विवाद नहीं हुआ बल्कि सरकारी जमीन को भी अतिक्रमण मुक्त कराने में सफलता मिली है।


परिवार पर एक नजर

जानकारी देते हुए पुलिस कप्तान ने बताया कि इरशाद खान के पिता वाहिद खान के विरुद्ध भी शहर के विभिन्ना स्थानों में अपराधिक मामले पर यह इसमें आधा दर्जन से अधिक मादक पदार्थों की तस्करी के भी मामले पंजीबद्ध है इसी तरह उक्त गांजा तस्कर के परिवार पर तकरीबन 2 दर्जन से अधिक अपराध पंजीबद्ध है कई बार इरशाद खान गांजा तस्करी के आरोप में जेल में भी जा चुका है।

चोर से बना था तस्कर

जानकारी में बताया गया है कि इरशाद खान पहले छोटी मोटी चोरी करने का काम करता था जिसके बाद वह अंडे के ठेले व देशी मदिरा बेचने का काम करने लगा और देखते ही देखते हुए रीवा जिले में गांजा तस्कर के नाम पर फेमस हो गया इरशाद खान लोगों को शहजादा से गांजा उपलब्ध करा देता था जिसके बाद से वह लगातार बड़ी खेप भी उड़ीसा से मंगाने लगा था कई बार प्रयास करने के बाद भी वह पुलिस को चकमा देने में कामयाब रहा हालांकि 3 माह पूर्व से गांजे के साथ उतार कर लिया गया था।

पता की जा रही अन्य संपत्ति

पुलिस यह पता लगाने में जुटी हुई है कि तस्करी के माध्यम से कमाए गए पैसे से इस आदमी और कहां-कहां संपत्ति बना रखी है जानकारी लगने के साथ उन संपत्तियों को भी जब्त करने का काम किया जाएगा।


हमारी लेटेस्ट खबरों से अपडेट्स रहने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

FACEBOOK PAGE INSTAGRAMGOOGLE NEWS ,TWITTER

मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ जुड़े हमसे  

Powered by Blogger.