ALERT : रीवा की सडक़ों पर दौड़ रहा LPG 'बम' जरा सी चूक पर हो सकता है विस्फोट


रीवा. शहर में सडक़ों पर एलपीजी 'बम' दौड़ रहा है, जरा सी चूक पर विस्फोट हो सकता है ! जी हां, अगर आप सडक़ पर वाहन चला रहे हैं। आप के सामने चल रहे चार पहिया वाहन से गैस की गंध आ रही हो तो सावधान हो जाइए। कभी भी विस्फोट हो सकता है। ऐसा इस लिए कि शहर में सीएनजी से चलने वाले चार पहिया वाहनों में बेखौफ एलपीजी की रिफिलिंग हो रही है। इतना ही नहीं एलपीजी से सीएनजी में रिफिलिंग की जा रही है। जिससे हादसे को खतरा रहता है। घरेलू सिलेंडर से असुरक्षित गैस रिफिलिंग को लेकर आस-पास के रहवासी भी खौफ की जिंदगी जी रहे हैं। 

गैस अधिक होने पर कहीं विस्फोट न हो जाए
शहर में सिरमौर-रतहरा मार्ग पर स्थित गड़रिया मोड़ के निकट दोपहर सडक़ पर ही एक 3.10 बजे चार पहिया वाहन में घरेलू सिलेंडर से एलपीजी गैस की रिफिलिंग की जा रही थी। इस बीच कार सर्विस सेंटर के मिस्त्री ने चार पहिया वाहन मालिक से कहा, साहब गैस फुल हो गई होगी। मशीन की रफ्तार धीमी हो गई है। क्यों कि इसमें मीटर नहीं लगा है। गैस अधिक होने पर कहीं विस्फोट न हो जाए। मिस्त्री और वाहन मालिक के बीच इस तरह की बात की चर्चा को लेकर आस-पास के भयभीत रहते हैं। हर रोज खौफ में दिन बीत रहा है।
 
शहर में सीएनजी गैस नहीं मिलने से बढ़ी रिफलिंग 
शहर में सीएनजी नहीं मिलने से स्कूल वैन, लोकल एरिया में चलने वाली वैन में एलपीजी सहित सामान्य चार पहिया वाहनों में सीएनजी किट लगी है लेकिन, वाहनों में सीएनजी गैस के बजाए एलपीजी का उपयोग बढ़ गया है। कार सर्विस सेंटर के एक मिस्त्री के मुताबिक शहर में सैकड़ो की संख्या में वाहन सीएनजी किट का उपयोग हो रहा है। एलपीजी की रिफिलिंग अधिकतर कार सर्विस सेंटरों पर की जा रही है। इसके अलावा छोटे सिलेंडरों में गैस रिफलिंग जारी है। 

सीएनजी गैस सेंटर बंद, एलपीजी की बढ़ी रिफिलिंग 
शहर में सीएजी गैस की ब्रिकी एक पंप संचालक करता था। इन दिनों वहां पर सीएनजी गैस रिफिलिंग का काम बंद है। जिससे सीएनजी से चलने वाले चार पहिया वाहनों में एलपीजी गैस की खपत बढ़ गई है। विभागीय अधिकारियों और गैस एजेंसी संचालक कहते हैं कि एक पंप पर सएनजी गैस मिलती थी वहां भी इन दिनों बंद है। इसके अलावा घरेलू सिलेंडर छोटे सिलेंडरों में असुरक्षित रिफिलिंग की जा रही है। रिफिलिंग जगहों पर हादसे को खुलेआम आमंत्रण दे रहे हैं। 

ऐसे समझे नुकसान फायदा 
पेट्राल की बढ़ती कीमत को लेकर अधिकतर चार पहिया वाहन में गैस किट लगाकर पेट्रोल की जगह एलपीजी गैस का उपयोग बढ़ गया है। कार सर्विस सेंटर पर वाहन में एलपजी गैस रिफिल करा रहे वाहन मालिक के मुताबिक एक सिलेंडर से करीब 300 से 350 किमी का एवरेज हैं। इसकी कीमत अधिकत 650 से 750 रुपए तक होती है। जबकि पेट्रेाल से कार में औसत 15 किमी प्रति लीटर का एवरेज लें तो 350 किमी के लिए 23 लीटर पेट्रोल यानी 2240 रुपए जेब ढीली करनी पड़ेगी। ऐसे में पेट्रोल की मंहगी कीमत के चलते पेट्रोल कार में सीएनजी किट के जरिए एलपीजी गैस का उपयोग बढ़ गया है। 

क्या कहते हैं जिम्मेदार 
वर्जन...
सीएनजी की जगह एलपीजी का उपयोग किया जा रहा है तो गलत है। हां यह बात सही है विस्फोट का खतरा रहता है। ऐसी जानकारी मेरे संज्ञान में नहीं है। अगर ऐसा है तो कार्रवाई की जाएगी। 
फरहीन खान, एसडीएम, हुजूर 

चार पहिया वाहनों में एलपीजी या घरेलू गैस सिलेंडर के उपयोग से रिसाव के कारण हादसे का खतरा रहता है। सीएनजी और एलपीजी में अंतर होता है। एलपीजी में रिसाव होता है। दो पहिया वाहनों में भी एलपीजी का उपयोग खतरे से खाली नहीं। 
अशफाक, मैकेनिक 

फैक्ट फाइल
घरेलू गैस सिलेंडर 650 से 750 रुपए तक 
चार पहिया वाहनों में प्रति सिलेंडर एवरेज 300 से 350 किमी 
चार पहिया वाहनों में गैस किट 4000 से अधिकत 10,000 रुपए 
दुपहिया वाहनों में गैस किट 2500 रुपए
दो किलो का एलपीजी सिलेंडर 150 से 200 रुपए
प्रति सिलेंडर एवरेज-300 से 350 किमी तक
पेट्रोल की कीमत 96 रुपए प्रति लीटर
चार पहिया वाहनों में पेट्रोल का औसत एवरेज 18-20 किमी प्रति लीटर
दुपहिया वाहनों में एवरेज 50-60 किमी प्रति लीटर


हमारी लेटेस्ट खबरों से अपडेट्स रहने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

FACEBOOK PAGE INSTAGRAMGOOGLE NEWS ,TWITTER

मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ जुड़े हमसे  


Powered by Blogger.