MP : फिर से थमेंगे बसों के पहिए! बस ऑपरेटरों ने किया आर-पार की लड़ाई का ऐलान

जबलपुर। कोरोना संक्रमण काल के चलते ज्यादातर यात्री बसों के पहिए थमे हुए हैं, बावजूद इसके परिवहन विभाग बसों से टैक्स की वसूली कर रहा है जिसे लेकर बस ऑपरेटरों में गहरी नाराजगी है। परिवहन विभाग के इस कदम का विरोध करते हुए बस ऑपरेटरों ने आर-पार की लड़ाई का ऐलान कर दिया है। यात्री बसों का किराया न बढ़ने से नाराज बस ऑपरेटरों ने हड़ताल की चेतावनी तक दे दी है और इस बार किसी भी हालत में वे अपने कदम वापस खींचने तैयार नहीं हैं।

मिलावटखोरों को मिलेगी आजीवन कारावास की सजा, EXPIRY DATE की दवा बेचने पर होगी 5 साल की जेल

बस ऑपरेटरों का कहना है कि डीजल और टायरों की कीमतों में हुई बढ़ोतरी को देखते हुए उन्होंने किराया निर्धारण बोर्ड के समक्ष किराए में बढ़ोतरी का प्रस्ताव रखा था, जिसे बकायदा मान भी लिया गया लेकिन 3 माह बीतने के बाद भी इस पर कोई फैसला नहीं लिया गया है। लिहाज़ा अब उनके पास हड़ताल पर जाने के अलावा कोई दूसरा रास्ता नहीं बचा है। बस ऑपरेटरों की मानें तो कोरोना काल में लोगों ने बसों का सफर पूरी तरह से बंद कर दिया है जिसके चलते उनकी आय प्रभावित हो रही है।

शिवराज कैबिनेट का फैसला : पेट्रोल 4 और डीजल डेढ़ रुपए प्रति लीटर होगा सस्ता, आज रात 12 बजे से लागू होंगी नई दरें

बस ऑपरेटर 50 फ़ीसदी किराए में बढ़ोतरी करना चाहते हैं जिसका प्रस्ताव बकायदा सरकार के पास भी लंबित है इस पर अंतिम फैसला न लिए जाने से बस ऑपरेटरों ने अब आर-पार की लड़ाई का मन बना लिया है और इसे लेकर बस ऑपरेटर लगातार सरकार के खिलाफ आंदोलन की रणनीति बनाने में जुट गए हैं।


हमारी लेटेस्ट खबरों से अपडेट्स रहने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

FACEBOOK PAGE INSTAGRAMGOOGLE NEWS ,TWITTER

मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ जुड़े हमसे  

Powered by Blogger.