REWA : मिलावटी खाद्य पदार्थ बेचने वालों की खैर नहीं, 200 नमूनों की हुई जांच : अबतक तीन के खिलाफ FIR


रीवा. जिले में मिलावटी खाद्य पदार्थ बेचने वालों की खैर नहीं है। जिला प्रशासन और खाद्य सुरक्षा विभाग ने मुक्त मिलावट अभियान के तहत मिलावट खोरों पर शिकंजा कसने लगा है। जिले में विशेष अभियान के दौरान अब तक तीन अल-अलग जगहों पर एफआइआर दर्ज कराया गया है। शहर में शुक्रवार को चलित खाद्य प्रयोगशाला से दूध, नमक सहित अन्य खाद्य पदार्थों की जांच देरशाम तक की गई। जांच कराने के लिए स्थानीय लोगों की भीड़ जमा हो रही है।

800 से अधिक लिए गए सैंपल 
जिले में खाद्य पदार्थों में मिलावटी के खिलाफ डेढ़ माह से मुक्त मिलावट अभियान चल रहा है। खाद्य सुरक्षा अधिकारी शाबिर अली की ओर से जिला प्रशासन को भेजी गई रिपोर्ट के अनुसार अभियान के दौरान 800 से अधिक नमूने लिए गए हैं। जिसमें चोरहटा इंडस्ट्रियल एरिया में विभिन्न कंपनियों के नाम पैक्ड की गई नमकीन आदि खाद्य पदार्थों की पैकिंग कर शहर से लेकर गांव-गांव में सप्लाई करने वालों के दर्जनभर से अधिक नमूने लिए गए। राज्य स्तरीय प्रयोगशाला में रिपोर्ट भेजी गई। जांच के दौरान अवैध कारोबार पाए जाने पर जिम्मेदारों के खिलाफ एफआर दर्ज की गई है। जिले में अब तक दो बड़े मिलावट खोरों के खिलाफ केस दर्ज किया जा चुका है।

760 नमूने सर्विलांस में लिए गए 
रेकार्ड के अनुसार मुक्त मिलावट अभियान के तहत 800 नमूने लिए गए हैं। जिसमें 760 नमूने सर्विलांस यानी तत्काल जांच की गई है। इसके अलावा 75 लीगल नमूने लिए गए हैं। जिसमें दो के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराया गया है। अभी सैकड़ो की संख्या में ऐसे नमूने हैं जो जिनकी रिपोर्ट अभी तक राज्य प्रयोशाला से नहीं आई है।

नमक आदि खाद्य पदार्थों की हो रही जांच 
जिले में बीते तीन दिन से चालित लैब में रोजमर्रा खाद्य पदार्थों की जांच हो रही है। शुक्रवार को चलित लैब अंतिम दिन देरशाम तक नमूने लिए गए। पहले दिन बुधवार को 60 नमूने लिए गए। जबकि दूसरे दिन भी गुरुवार को 48 से अधिक नमूने लिए गए। तीन दिन के भीतर अलग-अलग दिनों में करीब 200 नमूनों की जांच की गई। जिसमें मिलावटी सामग्री नहीं मिली है। जांच कर्मचारियों के मुताबिक दूध के फैट में कमी है। खाद्य सुरक्षा अधिकारी के मुताबिक चलित लैब में डीआइजी ने भी दूध के दो सैंपल भेजकर जांच कराए। जिसकी रिपोर्ट आल इज वेल मिली है।

वर्जन
चलित लैब में हर रोज रोजमर्रा के खाद्य समग्रियों के नमूने लिए जा रहे हैं। चलित लैब जिले के अलग-अलग की वैन पहुंच रही है। सामान्य रूप से दूध, नमक आदि खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता की जांच की गई है। अभी तक दूध, नमक में किसी तरह का मिलावट सामने नहीं आई है। 

साबिरअली खान, खाद्य सुरक्षा अधिकारी

हमारी लेटेस्ट खबरों से अपडेट्स रहने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

FACEBOOK PAGE INSTAGRAMGOOGLE NEWS ,TWITTER

मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ जुड़े हमसे  

Powered by Blogger.