Chanakya Niti : वो कौन सी 4 बातें हैं जिनमे पुरुषों से हमेशा आगे रहती हैं महिलाएं, जानिए..



आचार्य चाणक्य ने अपने नीति ग्रंथ यानी चाणक्य नीति में मनुष्य के दैनिक जीवन से जुड़ी कई बातों का उल्लेख किया है. चाणक्य नीति में महिलाओं एवं पुरुषों के गुणों के बारे में भी बताया गया है. एक श्लोक के माध्यम से चाणक्य ने चार मामलों में महिलाओं को पुरुषों से आगे बताया है. 

आचार्य चाणक्य ने अपने नीति ग्रंथ यानी चाणक्य नीति में मनुष्य के दैनिक जीवन से जुड़ी कई बातों का उल्लेख किया है. चाणक्य ने सुख-समृद्धि, धन-दौलत, मित्र-शत्रु, पारिवारिक जीवन, सामाजिक जीवन समेत तमाम पहलुओं पर गहनता से अध्ययन करके अपने विचार एवं सुझाव दिए हैं. चाणक्य नीति में महिलाओं एवं पुरुषों के गुणों के बारे में भी बताया गया है. एक श्लोक के माध्यम से चाणक्य ने चार मामलों में महिलाओं को पुरुषों से आगे बताया है. 

स्त्रीणां द्विगुण आहारो बुद्धिस्तासां चतुर्गुणा।
साहसं षड्गुणं चैव कामोष्टगुण उच्यते।।"

1- आहार यानी भोजन के मामले में

चाणक्य नीति में आहार एवं भोजन के मामले में महिलाओं को पुरुषों से आगे बताया गया है. इस श्लोक में 'स्त्रीणां द्विगुण आहारो' शब्द का संबंध महिलाओं की भूख से है. चाणक्य के अनुसार महिलाओं को पुरुषों की तुलना में अधिक भूख लगती है. दरअसल, शारीरिक बनावट के हिसाब से भी महिलाओं को अधिक कैलोरी की आवश्यकता होती है. ऐसे में महिलाओं को पुरुषों से अधिक भूख लगना एवं आहार लेना स्वाभाविक भी है.

2- बुद्धिमत्ता

आचार्य चाणक्य के श्लोक के अनुसार महिलाओं में बुद्धिमत्ता का गुण होता है. पुरुषों की तुलना में महिलाएं अधिक समझदारी एवं बुद्धिमानी से पारिवारिक जीवन चलाती है. बुद्धिमत्ता से ही महिलाएं परिवारिक जिम्मेदारियों और कार्यों को बड़ी आसानी से पूरा करने में सक्षम होती हैं. 

3- साहस का गुण

चाणक्य नीति में महिलाओं को साहसी बताया गया है. हालांकि, हमारे समाज में आमतौर पर पुरुषों को महिलाओं से अधिक पराक्रमी और साहसी माना जाता है. चाणक्य के अनुसार विपरीत परिस्थितियों में भी महिलाएं हिम्मत से डटकर खड़ी रहती हैं इसलिए महिलाएं पुरुषों से अधिक साहसी होती हैं.

4- कामुकता की भावना 

चाणक्य ने महिलाओं को पुरुषों के मुकाबले अधिक कामुक बताया है. चाणक्य के इस श्लोक के मुताबिक महिलाओं में पुरुषों की तुलना में कामुकता की भावना ज्यादा होती हैं. 
Powered by Blogger.