रोहतक में सरेआम हॉरर किलिंग, भतीजी के प्रेम प्रसंग के चलते प्रेमी सहित उतार दिया उसे मौत के घाट.. #MAJOR CRIME#




रोहतक में सरेआम हॉरर किलिंग. चाचा ने बहला फुसला कर बुलाया, फिर मार दी गोली. पुलिस ने चाचा, चाची और दो भाई समेत चार लोग गिरफ्तार किए. एक आरोपी अभी भी फरार.

रोहतक: लाख समझाने के बावजूद भी प्रेमी संग शादी की जिद पर अड़ी भतीजी को क्या मालूम था कि कभी जिसकी गोद में खेली वही चाचा उसका काल बनेगा. जिस भाई की कलाई पर राखी बांधी उसी हाथ से चलाई गई गोली उसकी जान लेगी.

रोहतक में बुधवार को घरवालों से छिपकर शादी करने आए प्रेमी जोड़े को लड़की के चाचा और भाइयों ने गोली मार दी. ये पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई. पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है जबकि एक फरार है. वहीं मृतक लड़की के भाई मनजीत का राजनैतिक कनेक्शन सामने आया है. पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा के बेटे और राज्यसभा सांसद दीपेंदर हुड्डा के साथ आरोपी मनजीत के पूरे शहर में पोस्टर लगे हुए हैं. मुख्य आरोपी ने कहा कि बेटी को समझाने की कोशिश कि लेकिन नहीं मानी.

घटना को कैसे दिया गया अंजाम

माता-पिता और भाई की मौत के बाद चाचा पर ही मृतक लड़की की जिम्मेदारी थी. तीन साल पहले मृतक की शादी झज्जर जिले के खेड़ी जट में हुई थी. पति के साथ अनबन के चलते पति को छोड़ दिया था. उसके बाद मृतक और रोहित एक दूसरे के करीब आ गए. फिर उन्हें एक दूसरे से प्यार हो गया. ये बात चाचा कुलदीप को ना मंजूर थी. कुलदीप ने लड़की को समझाने की कोशिश की, लेकिन वह नहीं मानी. आखिर में झूठी शान के लिए कुलदीप ने प्रेमी जोड़े को खत्म करने की साजिश रची. कुलदीप ने बहला फुसला कर लड़की और उसके प्रेमी रोहित को परिवार समेत रोहतक बुलाया. वहां उनकी शादी के लिए सहमति जताई. दोनों परिवार रोहतक के दिल्ली बाईपास पर आए जिसके बाद ताक में बैठे कुलदीप, लड़की के भाई मंजीत, विकास ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी. जिसके बाद लड़की की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि रोहित ने पीजीआई में दम तोड़ा. वहीं रोहित का भाई मोहित को तीन गोलियां लगी है. उसकी हालत फिलहाल स्थिर बनी हुई है.

मुख्य आरोपी कुलदीप ने कहा कि लड़की की शादी के बाद पति के साथ अनबन चल रही थी. फिर पूजा और रोहित का प्रेम परवान चढ़ने लगा, काफी बार लड़की को समझाने की कोशिश की, लेकिन वो नहीं मानी इसलिए बर्दाश्त नहीं हुआ. वहीं पुलिस का कहना है कि फिलहाल कुलदीप, मुन्नी देवी, मंजीत, और विक्की को गिरफ्तार कर लिया है. एक आरोपी अभी फरार है जिसकी तलाश जारी है. सभी आरोपियों के खिलफ 302/307120 बी/34 धारा के तहत मामला दर्ज किया गया है.
Powered by Blogger.