UP : अजूबा है ये महज चार साल की बच्ची, इसकी याददाश्त है हैरान कर देने बाली




जकिया हयात की उम्र चार साल है लेकिन दुनिया भर की जानकारी उसके पास है. देश-विदेश की राजधानी, खोज करने वाले वैज्ञानिक सभी के बारे में ये झट से बता देती है. जो भी इनके बारे में सुनता है वह हैरान रह जाता है.

मेरठ: कौटिल्य के बाद अब मेरठ की रहने वाली जकिया हयात की याददाश्त का हर कोई मुरीद है. महज चार साल की बच्ची को देश-विदेश की पूरी जानकारी है. यही नहीं सामान्य ज्ञान से जुड़ी सारी जानकारी याद है.

अभी स्कूल में दाखिला भी नहीं हुआ

आपने अक्सर सुना और देखा होगा कि कुछ बच्चों की याददाश्त बहुत अच्छी होती है, और वो जो एक बार सुन ले तो जल्दी भूलते नहीं. मानो सबकुछ उनके दिमाग पर लिख सा गया हो. मेरठ की रहने वाली 4 चार साल की जकिया हयात भी ऐसी ही प्रतिभा की धनी है. उसका अभी स्कूल में दाखिला भी नहीं हुआ है, लेकिन देश ही नहीं बल्कि विदेश के सामान्य ज्ञान से जुड़ी तमाम बाते उसे मुंह जुबानी याद हैं.

पिता बीआरसी कार्यालय में तैनात हैं

मेरठ के खरखौदा ब्लॉक के अजराड़ा निवासी मशकूर हयात खरखौदा बीआरसी पर कार्यालय सहायक हैं. उर्दू से एमए मशकूर की दो बेटियां हैं. जकिया हयात और मायरा. जकिया हयात चार साल की और मायरा दो साल की हैं. जकिया की मां ने बीए किया है और हाउस वाइफ हैं.

रोजाना पढ़ातें हैं छह प्रश्न

आपको बता दें, जकिया के माता माता-पिता रोजाना सामान्य ज्ञान के छह प्रश्न पढ़ाते हैं. दिनभर वह इन्हें दोहराती है. एक वर्ष के अंदर जकिया को तमाम देशों की राजधानी, उत्तर प्रदेश के जनपद, विभिन्न चीजों के आविष्कार-आविष्कारक, विभिन्न वंश और युद्ध, राष्ट्रपति, देश के तमाम प्रधानमंत्रियों के नाम और धर्म समेत कई अन्य जानकारी हो चुकी है.

इतना ही नहीं जकिया हयात का दिमाग इतना तेज है कि सवाल करते ही वह इसका जवाब दे देती है. आइएएस क्या होते हैं, जकिया ने एबीपी गंगा से खास बातचीत में आईएएस और आईपीएस क्या होते हैं, ये भी बताया. एबीपी गंगा भी ऐसी बच्ची के उज्वल भविष्य की कामना करता है.
Powered by Blogger.