MP : भोपाल, इंदौर, ग्वालियर और जबलपुर में पहुंचने के बाद होगी जिलों में होगी कोरोना वैक्सीन की सप्लाई


भोपाल । कोरोना वैक्सीन का इंतजार खत्म होने जा रहा है। प्रदेश में बुधवार को कोरोना की वैक्सीन पहुंचने की उम्मीद है। एयर कार्गों से सबसे पहले भोपाल, इंदौर, ग्वालियर और जबलपुर में वैक्सीन पहुंचेगी। इसके बाद यहां से दूसरे जिलों को भेजी जाएगी। बुधवार रात या गुरुवार सुबह तक सभी जिलों में वैक्सीन पहुंच जाएगी। 16 जनवरी से प्रदेश भर में टीकाकरण शुरू होगा। 9 से 5 बजे के बीच 1149 केन्द्रों पर टीका लगेगा। इनमें 302 केन्द्र भारत सरकार के सीधे निगरानी में रहेंगे। पहले चरण में हफ्ते भर के भीतर 4 लाख 16 हजार स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीका लगाया जाएगा। छुट्टी के दिन के अलावा मंगलवार और शुक्रवार को टीकाकरण नहीं होगा। वजह, इन दोनों दिनों में अन्य बीमारियों से बचाव के लिए नियमित टीकाकरण किया जाता है।

बचे हुए स्वास्थ्यकर्मियों के लिए होगा मॉपअप राउंड

स्वास्थ्य विभाग के अफसरों ने बताया कि टीका लगवाने के लिए स्वास्थ्यकर्मियों को एसएमएस भेजा जाएगा। इसके बाद भी जो लोग टीका लगवाने के लिए नहीं पहुंचेंगे उनके लिए मॉपअप राउंड संचालित होगा। इसमें हितग्राहियों को फोन कर टीका लगवाने के लिए बुलाया जाएगा। हालांकि, इसके बाद भी टीका लगवाने के लिए कोई नहीं आता तो उसे बाध्य नहीं किया जा सकता। वजह टीकाकरण स्वैच्छिक है। जिन स्वास्थ्यकर्मियों का मंगलवार रात 12 बजे तक पोर्टल पर अपलोड किया जा सकेगा। इसमें नए नाम जोड़े जा सकेंगे।

जीएमसी के तीन हजार स्वास्थ्यकर्मियों को लगेगा टीका, मंत्री ने किया निरीक्षण

चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने मंगलवार दोपहर टीकाकरण की तैयारियां देखने के लिए हमीदिया अस्पताल का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने नए पुस्तकालय भवन में बनाए कोरोना टीकाकरण केन्द्र को देखा। गांधी मेडिकल कॉलेज (जीएमसी) की डीन डॉ.अरुणा कुमार ने मंत्री को बताया हमीदिया अस्पताल में पांच, टीबी अस्पताल में दो और सुल्तानिया अस्पताल में एक टीकाकरण बूथ बनाया जाएगा। तीनों जगह के करीब तीन हजार स्वास्थ्यकर्मियों का टीकाकरण होना है। मतदान की तर्ज पर पुस्तकालय के गेट में सबसे पहले टीका लगवाने वाले के दस्तावेज जांचे जाएंगे। पात्र होने पर ही अंदर जाने की अनुमति मिलेगी। आने और जाने का अलग रास्ता रहेगा। इस दौरान बाहरी व्यक्तियों का प्रवेश यहां पर नहीं होगा।

इस तरह जिलों में पहुंचेंगा टीका

-सीरम इंस्टीट्यूट पुणे से टीका मुंबई भेजा जाएगा। यहां से एयर कार्गो से भोपाल, इंदौर, ग्वालियर और जबलपुर पहंचेगा।

-बुधवार को सुबह आठ बजे से रात नौ बजे के बीच टीका आ सकता है।

-विमान से 12-12 हजार टीका वाली पेटियां आएंगी। इसके अंदर तीन-तीन हजार की चार पेटियां होंगी।

- भोपाल में टीका आने के बाद पुलिस सुरक्षा में किलोल पार्क स्थित स्टोर रूम में पहुंचेगा।

- यहां कंपनी द्वारा तैयार बाक्स से टीका निकालकर देखा जाएगा कि एयरपोर्ट से लाने में कोई टूट-फूट तो नहीं हुई है।

-इसके बाद अलग कोल्ड बॉक्स में रखकर जिलों को उनकी जरूरत के अनुसार पुलिस सुरक्षा में भेजा जाएगा।

-12 लाख डोज टीका स्टोर करने की क्षमता क्षेत्रीय स्वास्थ्य संचालक के स्टोर रूम में है।

- स्टोर रूम को फिलहाल सील करके रखा गया है।

Powered by Blogger.