CRIME : मैरिज ब्यूरो की आड़ में नाबालिग लड़कियों को बेचने का चल रहा था रैकेट : ऐसे हुआ पर्दाफाश : पढ़िए


छत्‍तीसगढ़ के रायपुर में मानव तस्करी करने वाले रैकेट का पर्दाफाश हुआ है. मैरिज ब्यूरो की आड़ में खरीद-फरोख्त का ये धंधा चलता था. मैरिज ब्‍यूरो ने दो लड़कियों को मध्‍य प्रदेश के गुना जिले में बेचा था जहां से लड़कियां इन दलालों के चंगुल से निकाली गईं. 

छत्‍तीसगढ़ के कोंडागांव इलाके में रहने वाली 2 नाबालिग लड़कियां 26 नवंबर को लापता हो गई थीं. दोनों लड़कियों को ढूंढने में पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी.

जब पुलिस को लड़कियां मिलीं तब उनकी जबरन शादी कराई जा चुकी थी. शादी के एवज में ब्यूरो संचालिका ने दोनों लड़कियों के बदले डेढ़-डेढ़ लाख रुपये वसूले थे. 

इस रैकेट के 7 लोगों को पुलिस अब तक गिरफ्तार कर चुकी है जिसमें एक महिला भी शामिल है, जो मैरिज ब्यूरो चलाती है. आरोपी ममता ने दोनों लड़कियों मध्‍य प्रदेश के गुना जिले में बेचा था. 

इस मामले में एक लड़की को खरीदने वाले का नंबर पुलिस के हाथों लग गया. इसमें में दो दलाल भी शामिल हैं. पुलिस ने लड़कियों के बयान ले लिए हैं. साथ ही पुलिस ने दोनों को उनके परिजनों को सौंप दिया है. छत्तीसगढ़ के रायपुर स्थित मैरिज ब्यूरो कार्यालय में भी पड़ताल शुरू की गई है. बताया जा रहा है कि मैरिज ब्यूरो की आड़ लेकर मानव तस्करी का कालाबाजार संचालित था. मैरिज ब्यूरो ने नाबालिग लड़कियों की उम्र भी आधार कार्ड में बढ़वा दी थी. 
Powered by Blogger.