शिक्षिका के प्रति आकर्षित छात्र ने फेसबुक पर बना डाली शिक्षिका की फर्ज़ी आईडी, लिखा एस्कार्ट सर्विस, पोर्न साइट पर भी डाल दिया नंबर : फिर..



आगरा: अभिभावकों से जुड़ी यह खबर बेहद अहम है. बदलते दौर में ज़िन्दगी पूरी तरह इंटरनेट और सोशल मीडिया पर निर्भर है, लेकिन अक्सर अभिभावक अपने बच्चों को नज़रंदाज़ करते रहते हैं कि आखिर उनके बच्चे सोशल मीडिया और इंटरनेट का प्रयोग किस तरह से कर रहे हैं? आगरा से एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसमें छात्र की करतूत ने उसे सलाखों के पीछे पहुंचा दिया, वहीं उसके परिजन भी शर्मसार हैं.

शहर के एक कान्वेंट स्कूल की शिक्षिका के नाम से 11वीं के छात्र ने फेसबुक पर फर्जी आईडी बना दी. छात्र शिक्षिका से ट्यूशन पढ़ता था. उनका मोबाइल नंबर और फोटो एडिट करके भी सोशल साइट्स पर डाल दिए. इस पर एस्कार्ट सर्विस लिखकर अश्लील बातें भी लिख दीं. मोबाइल नंबर पॉर्न वेबसाइटों पर भी डाल दिया. दो महीने पहले शिक्षिका पर अंजान लोगों के कॉल आने शुरू हो गए. शिक्षिका ने एसएसपी से शिकायत की. साइबर क्राइम सेल ने जांच की तो मामला खुल गया. पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर नाबालिग छात्र और उसके एक रिश्तेदार युवक को गिरफ्तार कर लिया.

थाना जगदीशपुरा क्षेत्र के एक मोहल्ले की शिक्षिका रकाबगंज थाना क्षेत्र के एक कान्वेंट स्कूल में पढ़ाती हैं. दो महीने से उनके मोबाइल पर अंजान लोगों के कॉल आ रहे थे. लोग उनसे अश्लील बात करते थे. उनके बारे में गलत-गलत बोलते थे. इस पर शिक्षिका परेशान हो गईं, वह तनाव में रहने लगीं.

उन्होंने एसएसपी बबलू कुमार से शिकायत की. इस पर साइबर क्राइम सेल को जांच के आदेश दिये गए. साइबर सेल को पता चला कि शिक्षिका का मोबाइल नंबर और फोटो फेसबुक पर फर्जी आईडी बनाकर डाला गया था. इसके साथ एक पॉर्न वेबसाइट पर भी नंबर दिया गया. उन्हें एस्कार्ट सर्विस के लिए बताकर 1500 रुपये रेट भी लिखा गया है. इस कारण लोग कॉल कर रहे थे.

शिक्षिका के प्रति आकर्षित था छात्र- पुलिस की पूछताछ में पता चला कि छात्र शिक्षिका के प्रति आकर्षित होने लगा था. वह पहले उनके स्कूल में ही पढ़ता था. मगर, बाद में स्कूल छोड़ दिया. स्कूल छूटने पर शिक्षिका से पढ़ने की कोशिश की, इसलिए ट्यूशन लगा लिया. शिक्षिका दोगुनी उम्र की थी. इसके बावजूद वह उनके प्रति आकर्षित था. शिक्षिका ने उसकी हरकत को नजरअंदाज कर दिया. इस पर वो ट्यूशन छोड़कर चला गया. बाद में उनके नंबर और फोटो का गलत प्रयोग किया. बेटे की गलती पर परिजन भी माफी मांग रहे थे.

इसको लेकर आगरा एसएसपी बबलू कुमार ने लोगों से दो तरह की अपील की है कि एक तरफ अभिभावकों से अपील की है कि, इनके बच्चे इंटरनेट और सोशल मीडिया का प्रयोग किस तरह कर रहे हैं, इस पर नज़र रखें. तो वहीं खासकर महिलाओं, छात्राओं और युवतियों से अपील की है कि सोशल मीडिया पर अपनी निजी जानकारी सार्वजनिक तौर पर शेयर करने से बचें और हो सके अपने फोटो, वीडियो और मोबाइल नंबर ना ही डालें, ताकि शरारती तत्व इसका गलत फायदा ना उठा सकें.
Powered by Blogger.