मुकेश अंबानी एक बार फिर इस अरबपति को पछाड़ बने दुनिया के 10वें सबसे अमीर धनी : जानिए कितनी हुई कुल संपत्ति

Telegram

नई दिल्ली। भारतीय अरबपति मुकेश अंबानी एक बार फिर एशिया के सबसे धनी व्यक्ति बन गए हैं। उन्होंने इस खिताब को पाने के लिए चीनी अरबपति झोंग शानशान को पीछे छोड़ दिया है। फोर्ब्स रियल-टाइम बिलियनेयर्स लिस्ट के मुताबिक, अरबपति मुकेश अंबानी ने एक बार फिर एशिया के बिलियनेयर्स की सूची में नंबर वन की रैंक हासिल कर ली है।

आईए जानते हैं नंबर वन के टैग के साथ मुकेश अंबानी की कुल संपत्ति अब कितनी हुई।

इस दंपती को महंगा पड़ा सरकारी नियमों का उल्लंघन, जानिए क्यों चुकानी पड़ी 1 करोड़ रुपए की जुर्माना राशि

रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी एकबार फिर से एशिया के सबसे अमीर शख्स बन गए हैं। फोर्ब्स बिलियनेयर्स सूची में मुकेश अंबानी दुनिया के 10वें सबसे अमीर हैं, जबकि झ्ण्दृदढ़ च्ण्ठ्ठदद्मण्ठ्ठद तेरहवें पायदान पर पहुंच गए हैं, जबकि एशिया में मुकेश अंबानी पहले और शानशान दूसरे स्थान पर हैं।

80 बिलियन डॉलर हुई अंबानी की संपत्ति

80 बिलियन डॉलर ( 58,87,71,20,00,000.00 रुपए ) की कुल संपत्ति के साथ मुकेश अंबानी ने अपना परचम लहराया है। अंबानी और शानशान एशिया के सबसे अमीर शख्स के लिए टाइटल स्वैप कर रहे हैं।

जबकि दुनिया के नंबर का खिताल हासिल करने लिए टेस्ला के एलन मस्क और अमेजन डॉट कॉम के जेफ बेजोस के बीच रेस चल रही है।

इस वजह से पिछड़े शानशान

फोर्ब्स रियल-टाइम बिलियनेयर्स लिस्ट के अनुसार, फरवरी में 77 बिलियन डॉलर की निजी संपत्ति के साथ चीनी अरबपति झोंग शानशान दूसरे स्थान पर आ गए हैं। इस सप्ताह चाइनीज बिलिनेयर झांग शानशान (झ्ण्दृदढ़ च्ण्ठ्ठदद्मण्ठ्ठद) कंपनी की शेयर वैल्यू में 20 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है, जिसके कारण उनकी संपत्ति में अच्छी खासी गिरावट आई है।

आपको बता दें कि 31 दिसंबर 2020 को एक बोतलबंद पानी निर्माता, नोंगफू स्प्रिंग कंपनी के मालिक शानशान एशिया के सबसे समृद्ध शख्स बन गए थे। लेकिन शेयरों में गिरावट और 22 अरब डॉलर के नुकसान ने उनसे ये तमगा जल्द ही छीन लिया।

वहीं अंबानी ने पिछले साल के मध्य में शीर्ष 10 अरबपतियों की सूची में यह घोषणा की कि उनकी कंपनी ख्त्दृ के लिए 20 बिलियन डॉलर से अधिक की कमाई करने के बाद अब वह कर्ज मुक्त हो गई है, जिससे वह 2020 में सबसे ज्यादा चर्चा में रहने वाले भारतीय अरबपति बन गए हैं।

अंबानी ने पिछले दो वर्षों में ज्यादातर वक्त नंबर वन का तमगा अपने पास रखा। लेकिन दिसंबर 2020 तक शानशान ने अलीबाबा ग्रुप के जैकमा को पछाड़ चीन के नंबर वन अमीर शख्स का तमगा हासिल किया, फिर अंबानी को पीछे छोड़ एशिया के नंबर वन बने साथ वारेन बफेट को पछाड़ दुनिया के 6वें सबसे अमीर शख्स बन गए थे।

कोरोना के बढ़ते संकट के बीच केंद्र सरकार ने राज्यों को लिखा खत, जारी किए ये खास दिशा निर्देश

अंबानी ने पावर की बजाय अपने कारोबार को तकनीक और ई-कॉमर्स के क्षेत्र में केंद्रित किया । पिछले साल, उन्होंने रिलायंस की डिजिटल और रिटेल इकाइयों में 27 बिलियन डॉलर के निवेशकों को बेच दिया, जिसमें गूगल और फेसबुक इंक शामिल थे, जिन्होंने अपना हिस्सा 18 बिलियन डॉलर तक बढ़ाया।

Powered by Blogger.