REWA : NO ENTRY तोड़ने पर 15 वाहनों का चालान काटा

रीवा । नियम को ताक में रखते हुए रात के अंधेरे में नो इंट्री में वाहन दौड़ाना 15 ऐसे वाहन चालकों को पुलिसिया कार्रवाई से गुजरना पड़ा है। पुलिस ने ऐसे वाहनों को जब्त करके नो इंट्री का नियम तोड़ने पर 5-5 हजार रुपये की चालानी कार्रवाई की है। वहीं जब्त किए गए वाहनों की जांच अब खनिज और परिवहन विभाग भी करेगा कि वाहन चालक ओवरलोड या फिर बिना दस्तावेज के वाहन सड़कों पर तो नहीं दौड़ा रहे थे। तीनों विभाग की संयुक्त जांच पूरी होने के बाद वाहन चालकों के खिलाफ मामला दर्ज किया जाएगा।

शहर के चोरहटा से रतहरा के बीच 13 किलोमीटर की बाइपास मार्ग बना हुआ है। लेकिन रात 10 बजे के बाद वाहन चालक बाइपास मार्ग को छोड़कर शहर के अंदर से अपने वाहन लेकर निकल रहे थे। वाहनों पर लगाम लगाने के लिए एसपी के निर्देश पर पुलिस विभाग की टीम शहर के अलग-अलग स्थानों पर दबिश देकर उन्हें जप्त किया है और पुलिस कंट्रोल रूम में सभी वाहनों को खड़ा करवाया गया है। बताया जा रहा है कि रतहरा में बाइपास का टोल नाका बना हुआ है और टोल नाका बचाने के लिए वाहन चालक शहर के मुख्य मार्ग का उपयोग रात में कर रहे थे। जब्त किए गए वाहनों में बल्कर, हाइवा और बड़े 10 चक्का ट्रक सहित अन्य हैवी वाहन शामिल हैं। ऐसे भारी वाहनों की शहर की सड़क में दौड़ लगाने के कारण सड़कों पर सीधा प्रभाव पड़ रहा है। इसे देखते हुए पुलिस विभाग ने नो इंट्री के बावजूद शहर में प्रवेश करने वाले वाहनों पर शिकंजा कसने के लिए इन दिनों मुहिम चला रही है और शहर के अंदर पाए जाने वाले भारी वाहनों को जब्त किया जा रहा है।

क्या है नियम : बताया जा रहा है कि शहर के अंदर भारी वाहनों को प्रवेश करने के भी नियम हैं। इसके चलते ऐसे वाहन ही प्रवेश कर सकते हैं जो कि शहर के अंदर का माल लोड करके शहर में उन्हें उतारा है। जबकि शहर क्रास करके नेशनल हाईवे में पहुंचने वाले वाहनों के लिए बाइपास मार्ग निर्धारित है। लेकिन वाहन चालक शहर का मार्ग उपयोग कर रहे थे।

नो इंट्री के बाद भी शहर के अंदर निकल रहे लगभग 15 वाहनों को जप्त करके नो इंट्री का पांच-पांच हजार रुपये का चालान किया गया है। साथ ही ओवरलोड और दस्तावेजों की जांच खनिज एवं परिवहन विभाग करेगा। जिसके बाद कार्रवाई की जाएगी।

शिव कुमार वर्मा, एएसपी।

Powered by Blogger.