REWA : कलेक्टर ने रंगोली प्रतियोगिता के विजेता बच्चों को किया पुरस्कृत, आप भी दिखाएं अपना हुनर : प्रथम पुरस्कार के लिए एक लाख रुपए की घोषणा

रीवा. कलेक्ट्रेट में कलेक्टर इलैयाराजा टी ने रंगोली प्रतियोगिता के विजेताओं को पुरस्कृत किया। कलेक्टर ने इस विद्यार्थियों, प्राचार्यों तथा वालेन्टियर्स को भी प्रशस्ति पत्र प्रदान किए। गणतंत्र दिवस पर नगर के 23 विद्यालयों ने प्रमुख स्थलों पर आकर्षक रंगोली बनाकर स्वच्छता का संदेश दिया था। अब दूसरे फेस में शहर को साफ-सुथरा रखने के लिए इ-कचरा प्रबंधन पर बेहतर पेंटिंग बनाने वाले प्रथम पुरस्कार के लिए एक लाख रुपए की घोषणा की है।

स्वच्छता का संदेश देने पर पहला पुरस्कार 10 हजार

रंगोली प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार 10 हजार रुपए शासकीय पीके स्कूल, दूसरा पुरस्कार पांच हजार रुपए ज्योति सीनियर सेकेण्डरी स्कूल तथा तीसरा पुरस्कार तीन हजार रुपए गायत्री विद्या मंदिर नेहरू नगर को दिया गया। शेष प्रतिभागी स्कूलों को पांच सौ रुपए तथा प्रमाण पत्र नगर निगम रीवा की तरफ से दिए गए। इस अवसर पर कलेक्टर एवं नगर निगम प्रशासक इलैयाराजा टी ने कहा कि रीवा शहर को स्वच्छ और सुंदर बनाने का अभियान शुरू हो गया है। इस अभियान में हर नागरिक की भागीदारी आवश्यक है।

एक लाख का पुरस्कार दिया जाएगा

स्वच्छता जागरूकता का अगला चरण एक फरवरी से 28 फरवरी तक चलेगा। जिसमें स्कूलों के साथ-साथ सभी कालेजों तथा आम नागरिक भी भागीदारी निभायेंगे। इस चरण में एक लाख रुपए का पुरस्कार दिया जाएगा। कलेक्टर ने कहा कि दूसरे चरण में अनुपयोगी वस्तुओं का उपयोग कर सुंदर कलाकृति बनाने की प्रतियोगिता होगी जिसमें पुराने टायर, उपकरण, प्लास्टिक की बोतल तथा कपड़े आदि का उपयोग होगा। इसका उद्देश्य कचरे को रिसाइकिल, रियूज तथा रिपीट करना है।

ई-कचरा प्रबंधन पर ध्यान दिया जाएगा

कलेक्टर ने कहा कि ई-कचरा के प्रबंधन पर भी ध्यान दिया जाएगा। नगर निगम का कचरा शोधन संयंत्र पहडिय़ा में शुरू हो गया है जहां कचरे से 6 मेगावाट बिजली भी बनायी जाएगी। जागरूकता अभियान के दूसरे चरण में 20 फरवरी को अपने कार्यों को नगर निगम में प्रस्तुत करें। इनका मूल्यांकन करके 28 फरवरी को पुरस्कार दिया जाएगा।

अनुपयोगी सामग्री से सजाया जा रहा पार्क

कलेक्टर ने कहा कि जब हम अपने घर, गली और शहर को स्वच्छ बनाने का प्रयास करते हैं तब हम सही मायने में देश के लिए काम करते हैं। कार्यक्रम में बताया गया कि नगर निगम कार्यालय के समीप स्थित गुलाब पार्क को अनुपयोगी सामग्री से सजाया जा रहा है। कार्यक्रम में अनुपयोगी सामग्री के उपयोग से आकर्षक सामग्री बनाने का प्रस्तुतिकरण किया गया।

Powered by Blogger.