आम नागरिकों को एक मार्च से कोरोना वैक्सीन लगना शुरू, पढ़िए : कहां, कैसे, कितने में? पूरी जानकारी

Telegram

नई दिल्‍ली। कोरोना वॉरियर्स को कोरोना वैक्सीन लगने के बाद अब देश में आम नागरिकों के 1 मार्च से कोरोना वैक्सीन लगना शुरू हो जाएगी। शुरुआत में 60 साल से ज्‍यादा उम्र वालों और 45 साल से अधिक उम्र वाले ऐसे लोगों कोरोना वैक्सीन लगेगी, जिन्हें को-मॉर्बिडिटीज हैं। इसके अलावा वैक्सीनेशन प्रोग्राम में केंद्र सरकार जल्द ही निजी क्षेत्र को भी शामिल कर सकती है। इसका मतलब ये है कि अब निजी अस्‍पतालों में भी कोरोना टीकाकरण कराया जा सकता है। आम लोगों के लिए 1 मार्च से कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम शुरू होने जा रहा है, ऐसे में वैक्सीन कहां मिलेगी, कितने में मिलेगी आदि सवालों के जवाब यदि आप जानना चाहते हैं तो यहां जान सकते हैं -

1 मार्च से किनका होगा टीकाकरण?

केंद्र सरकार द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक 1 मार्च से 60 साल से ज्‍यादा आयु वाले हर व्यक्ति टीकाकरण के योग्‍य होगा। साथ ही 45 साल से ज्‍यादा उम्र वाले ऐसे लोग, जिन्‍हें पहले को-मॉर्बिडिटीज हैं, उन्हें भी कोरोना टीका लगाया जा सकता है। हालांकि सरकार ने अभी ये साफ नहीं किया है कि किन बीमारियों वालों को अभी कोरोना वैक्सीन लगेगी। अधिकारिक सूत्रों के मुताबिक हाइपरटेंशन, डायबिटीज, कैंसर के अलावा दिल, गुर्दे और फेफड़े से जुड़ी कुछ बीमारियों को भी इसमें शामिल किया जा सकता है। को-मॉर्बिडिटीज वाले व्यक्तियों को टीकाकरण केंद्र पर एक प्रमाण पत्र दिखाना होगा, जो किसी रजिस्‍टर्ड मेडिकल प्रैक्टिशनर की तरफ से अटेस्‍ट किया होना चाहिए।

टीकाकरण के पहले ये आईडी जरूर ले जाएं

सरकार ने 12 तरह के आईडी प्रुफ की लिस्‍ट जारी की है। उनका मतदाता सूची से भी मिलान किया जाएगा। जैसे आधार कार्ड, वोटर आईडी, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, PAN कार्ड, हेल्‍थ इंश्‍योरेंस, स्‍मार्ट कार्ड, पेंशन डॉक्‍युमेंट, बैंक/पोस्‍ट ऑफिस पासबुक, मनरेगा जॉब कार्ड, MP/MLA/MLC का आईडी कार्ड, सरकारी कर्मचारियों का सर्विस आईडी कार्ड, नैशनल पॉपुलेशन रजिस्‍टर के तहत जारी स्‍मार्ट कार्ड। कोरोना टीकाकरण करवाते समय इन सभी आईडी में से कोई एक साथ में जरूर लेकर जाएं।

वैक्सीन की कीमत क्या होगी

केंद्र सरकार ने बताया है कि करीब 10000 सरकारी टीकाकरण केंद्रों पर वैक्‍सीन मुफ्त में दी जाएगी। हालांकि अभी तक इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है। यदि महाराष्‍ट्र राज्य की बात की जाए तो स्वास्थ्य सचिव डॉ प्रदीप व्‍यास ने कहा कि निजी अस्‍पताल को‍विड वैक्‍सीनेशन सेंटर बनने के लिए 100 रुपए प्रति व्‍यक्ति के हिसाब से चार्ज करेंगे। इसके अलावा वे वैक्‍सीन की लागत 150 रुपए प्रति व्‍यक्ति वसूल करेंगे। ऐसे में प्रति व्‍यक्ति अधिकतम चार्ज 250 रुपए प्रति डोज हो सकता है।

वैक्सीन लगावाने के लिए ऐसे कराएं रजिस्‍ट्रेशन

Co-WIN ऐप के जरिए रजिस्‍ट्रेशन कराया जा सकता है। इसके अलावा आरोग्‍य सेतु ऐप पर भी रजिस्ट्रेशन कराया जा सकता है। सीनियर सिटिजंस के लिए फोन से रजिस्‍ट्रेशन का विकल्‍प भी है। कॉल सेंटर के नंबर 1507 पर डायल करना होगा। यह भी याद रखें कि फिलहाल कोरोना वैक्सीन की होम डिलिवरी सुविधा उपलब्ध नहीं है। जिन लोगों को वैक्‍सीन की पहली डोज लग चुकी है, वे मोबाइल ऐप के जरिए एक QR आधारित सर्टिफिकेट डाउनलोड कर सकेंगे। वैक्‍सीन से जुड़ा अवेयरनेस मैटीरियल भी मिलेगी। पहली डोज के 28 दिन बाद वैक्सी की दूसरी डोज लेनी होगी।

Powered by Blogger.