SIDHI : CM शिवराज को मृतक महिला की बेटी स्वर्णलता ने वापस किया सात लाख का चेक, कहा 'मां की इच्छा थी नौकरी करूं

सीधी। सीधी में नहर में बस गिरने से हुए हादसे में एक मृतका की बेटी ने सीएम शिवराज सिंह को 7 लाख का चेक वापस कर दिया। मृतका की बेटी ने सीएम से कहा कि उनकी मां की इच्छा थी कि मै सरकारी नौकरी करूूं, इसलिए मुझे चेक नहीं नौकरी चाहिए, मृतका विमला द्विवेदी की बेटी स्वर्णलता ने नौकरी की मांग की है। निवासी रामपुर नैकिन की हादसे में मौत हो गई है, CM शिवराज सिंह चौहान मृतक महिला के घर चेक देने पहुंचे थे।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कलेक्ट्रेट में जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ बैठक ली, रीवा कमिश्नर, आईजी भी उपस्थित रहे, उन्होंने घटना को लेकर सिलसिलेवार जानकारी ली, सीएम ने कहा कि घटना हृदय विदारक है अंदर से व्यथित हूं। घटना को गंभीरता से लिया गया है, जनता को मैं दिनभर से सुन रहा हूं।

CM शिवराज सिंह चौहान आज रात्रि सीधी में ही रुकेंगे, रात में पीड़ित परिवारों से मुलाकात जारी रखेंगे, कल सुबह फिर अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। सीएम शिवराज आज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में बस दुर्घटना में घायल हुए लोगों से भी मुलाकात की है। सीएम शिवराज ने कई मृतकों के परिजनों से मिलकर उन्हें ढांढस बंधाया है। और घायलों को बेहतर उपचार के निर्देश दिए हैं।

बता दें​ कि सीधी बस हादसे में 51 लोगों की नहर में डूबने से मौत हो गई है, इस हादसे में सिर्फ 7 लोगों की जान बची है, अभी भी 3 लोग लापता हैं, आज बस के ड्राइवर को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। इस हादसे के कारण कल से पूरे प्रदेश का माहौल गमगीन है। सीएम शिवराज आज दमोह के दौरे पर जाने वाले थे लेकिन उन्होंने यह दौरा रद्द कर दिया है। इधर परिवहन विभाग के बसों के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई शुरू कर दी है।

Powered by Blogger.