Good News : मार्च के बाद घरेलू LPG के भाव में गिरावट की उम्मीद

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

कोरोना महामारी के बाद से जीवन के पटरी पर लौटने की उम्मीद पर रसोई गैस की महंगाई ने बड़ी चोट पहुंचाई। जनवरी से अब तक चार बाद दाम बढ़ चुके हैं। अकेले फरवरी में तीन बार घरेलू रसोई गैस महंगा हुआ और अब 14.2 किग्रा का सिलेंडर 800 रुपए से अधिक की कीमत पर मिल रहा है। हर कोई यही पूछ रहा है कि आखिर घरेलू रसोई गैस कब सस्ती होगी। केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने इसका जवाब दिया है। अपने वाराणसी दौरे पर उन्होंने उम्मीद जताई कि मार्च के बाद घरेलू रसोई गैस की कीमत में कमी आना चाहिए। पढ़िए धर्मेंद्र प्रधान का पूरा बयान

'मार्च के बाद LPG (घरेलू गैस) के भाव में गिरावट की उम्मीद है। डीजल तथा पेट्रोल के मूल्य को लेकर केंद्र और राज्य सरकारों को समन्वय बनाने पर जोर देना चाहिए। कोरोना महामारी के कारण पेट्रोलियम पदार्थों की मांग घटी थी, जिसकी वजह से उत्पादक देशों ने मई से उत्पादन कम कर दिया था। अब मांग तो सामान्य हो गई, उत्पादन को पुराने स्तर पर पहुंचने में समय लग रहा है। वैसे भी नवंबर से मार्च के बीच अक्सर ही कीमतें बढ़ती हैं।'

फोन पर दो घंटे में पहुंचेगा एलपीजी सिलेंडर

धर्मेंद्र प्रधान ने दैनिक जागरण को बताया कि फोन करने पर मात्र दो घंटे में ही LPG सिलेंडर पहुंचाने के निर्देश दिए गए हैं। इससे उन ग्राहकों को काफी सहूलियत मिलेगी, जिनके पास सिंगल सिलेंडर वाला कनेक्शन है। इस सुविधा की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से की गई है। फिलहाल इसके लिए कोई अतिरिक्त राशि नहीं ली जा रही, लेकिन आगे चलकर ग्राहकों को 25 रुपए देने होंगे। इससे चंद घंटों में सिलेंडर पहुंचा दिया जाएगा। बता दें, हाल के दिनों में सरकार ने रसोई गैस की सुविधाओं को सुगम बनाने के लिए कई अहम कदम उठाए हैं।

Powered by Blogger.