मेहमानों का स्वागत करना और उनके रुकने पर उत्साह बनाए रखना ज़रूरी होता है, कैसे आइए जानते हैं

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

हंसते हुए मेहमानों का स्वागत करना और उन्हें अच्छा महसूस कराना, कुछ समझदारी और आसान तरक़ीबों के ज़रिए संभव है। जब भी कभी आपका मन परेशान होने लगे, तो यह ज़रूर सोचिएगा कि आप मेहमान होते, तो कैसे व्यवहार की अपेक्षा रखते।

मुस्कान भरा स्वागत

मुस्कराहट हर समस्या का हल होती है। यदि आपका मूड ख़राब है तो भी मेहमानों का स्वागत हंसते हुए करें, क्योंकि बाहर से आने वाले व्यक्ति को आपकी परेशानियों के बारे में नहीं पता। ऐसे में आपका निराशा भरा स्वागत उन्हें अच्छा महसूस नहीं कराएगा और उन्हें लगेगा कि आपको उनके आने से ख़ुशी नहीं हुई। इसलिए हंसते हुए स्वागत करें और घर के बाक़ी सदस्यों को भी ऐसा ही करने के लिए कहें।

गर्मजोशी बरकरार रखें

अमूमन ऐसा होता है कि शुरुआती दिन मेहमानों की भरपूर आवभगत की जाती है और दूसरे दिन से वो उत्साह ख़त्म हो जाता है। ऐसा न करें,पहले दिन जैसा उत्साह और गर्मजोशी बरकरार रखें। ऐसा करने से मेहमान आपके व्यवहार के कायल हो जाएंगे और उन्हें अपनापन भी लगेगा।

योजना बना लें

यदि मेहमान कुछ दिनों के लिए आ रहे हैं और आपको इस बारे में जानकारी दे दी गई है तो व्यवस्था कर लें। इसमें उनकी पसंद के नाश्ते-खाने का इंतज़ाम (अगर पसंद पता है तो), जिस कमरे में रुकेंगे वहां की साफ़-सफ़ाई, अतिरिक्त साबुन, तौलिया आदि पहले से रख दें। इससे आख़िरी समय पर थकावट से बच जाएंगे।

नया न आज़माएं

जब मेहमान आते हैं तो महिलाएं नए-नए व्यंजन बनाना पसंद करती हैं। ऐसे में कई बार होता ये है कि वो डिश उतनी बेहतरीन नहीं बनती जितनी उम्मीद की जाती है। इसलिए कुछ भी नया आज़माने से बचें। वही बनाएं जो आपको पहले से बनाना आता है या जिसमें आप निपुण हैं। इससे आपको बनाने में भी आत्मविश्वास रहेगा और मन में डर भी नहीं होगा।

बास्केट रखें

कमरे में एक फैंंसी बास्केट रखना न भूलें। इसमें बिखरा हुआ सामान रख दें। जैसे बच्चों के खिलौने, कपड़े आदि। इससे उन्हें व्यवस्थित करने का समय बच जाएगा और बास्केट में रखने से बिखराव नहीं लगेगा।

पहनावा कैसा है

आप भले ही घर में कुछ भी पहन लेती हों। लेकिन मेहमानों के सामने परिधान ज़रा संभलकर पहनें। जैसे यदि आप घर में नाइट सूट या गाउन पहनती हैं तो पहले से सूट निकालकर रख लें। कुछ कॉटन के आरामदायक सलवार सूट या प्लाज़ो पहनें जिनमें काम करने में सुविधा हो। बहुत चुस्त कपड़े पहनने से बचें। इससे काम करने में असुविधा हो सकती है।

प्रात:काल का अभिवादन

अक्सर मेहमानों के लम्बे टिक जाने से घर का बजट, रुटीन सब बिगड़ जाता है। इस पर घर के लोगों की आपस में चर्चा भी चुपके-चुपके होती रहती है, लेकिन ऐसा भाव चेहरे पर ना आने दें। सुबह उठकर उत्साह से अभिवादन करें। ठीक से सो पाए या नहीं, ये ज़रूर पूछें।

ख़रीदारी कर लें

यदि मेहमान कुछ दिन रुकने वाले हैं और उनके बच्चे भी हैं, तो घर में पहले से कुछ सामान लाकर रखें, जैसे ब्रेड, फ्रोज़न स्नैक्स (आलू टिक्की, चीज़ समोसा आदि), सब्ज़ियां, मसाले, सूखा नाश्ता आदि। इससे बार-बार बाज़ार जाने की झंझट से बचेंगे और समय और मेहनत भी ज़ाया नहीं होगी। इससे आपके सामने खाने के कई आप्शन भी हो जाएंगे।

जानकारी लेते रहें

मेहमान को ख़ास महसूस कराना आपकी ज़िम्मेदारी है। उनसे उनकी सुविधाओं के बारे में पूछते रहें। पूछ-परख होना सबको अच्छा लगता है। ऐसा करने से मेहमान के मन में अच्छी छवि बनेगी। उन्हेंे अपने घर जैसा ही महसूस कराएं।

Powered by Blogger.