MP : मैहर BJP विधायक नारायण त्रिपाठी ने PM नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर अलग विन्ध्य प्रदेश बनाने की रखी मांग

भोपालः मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार के लिए जब तक मुसीबतें खड़ी करने वाले मैहर भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी ने अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है. उन्होंने पीएम से अलग विन्ध्य प्रदेश बनाने की मांग रखी है. अपने पत्र में नारायण त्रिपाठी ने प्रधानमंत्री मोदी से कहा है कि छोटे राज्यों के गठन से विकास को स्वाभाविक गति मिलती है. 

पीएम मोदी को पत्र लिख विन्ध्य को अलग प्रदेश बनाने की मांग रखी

नारायण त्रिपाठी ने पीएम मोदी को लिखे पत्र में कहा है कि विन्ध्य प्रदेश का पहले अलग अस्तित्व था, लेकिन मध्य प्रदेश के गठन के बाद उसका विलय इसी राज्य में कर दिया गया. उन्होंने इसका विपरीत प्रभाव बताते हुए लिखा है कि विन्ध्य क्षेत्र का विकास काफी समय से ठप पड़ चुका है. मैहर विधायक ने पीएम को लिखा है कि विन्ध क्षेत्र में शिक्षा, स्वास्थ्य, इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास, प्रशासनिक सुदृढ़ता और मजबूत कानून व्यवस्था के लिए यह बेहद जरूरी है कि यह मध्य प्रदेश से अलग होकर एक स्वतंत्र राज्य बने. 

पार्टी लाइन से विपरीत बयानबाजी के लिए तलब हो चुके हैं विधायक

आपको बता दें कि नारायण त्रिपाठी समय समय पर अलग विन्ध्य प्रदेश की मांग उठाकर मध्य प्रदेश की भाजपा सरकार के लिए मुसीबतें खड़ी करते रहे हैं. उन्होंने बीते दिनों एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा था कि अलग विन्ध्य प्रदेश के लिए वह अपना सर्वस्व न्यौछावर कर देंगे. यहां तक कि वह विन्ध्य प्रदेश के लिए जनआंदोलन की चेतावनी दे चुके हैं. इस बयानबाजी के बाद भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने नारायण त्रिपाठी को तलब किया था. लेकिन उनसे मिलने के कुछ घंटे बाद ही मैहर विधायक ने सतना में फिर पार्टी लाइन के विपरीत बयानबाजी कर दी थी. 

अलग विन्ध्य प्रदेश को लेकर प्रेशर पॉलिटिक्स करते रहे हैं नारायण त्रिपाठी

नारायण त्रिपाठी इससे पहले भी अलग विंध्य प्रदेश बनाने और मैहर को जिला बनाने की मांग को लेकर प्रेशर पॉलिटिक्स करते रहे हैं. साल 2018 के बाद मध्य प्रदेश में बनी कांग्रेस सरकार के दौरान उन्होंने एक बार विधानसभा में बीजेपी के खिलाफ वोट कर दिया था, जिसको लेकर काफी हंगामा मचा था. मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार गिरने के राजनीतिक घटनाक्रम के बीच नारायण त्रिपाठी तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ से मुलाकात करने कई बार सीएम हाउस पहुंचे थे. उस वक्त भी उन्होंने मैहर को जिला बनाने और विंध्य को प्रदेश बनाने की मांग उठाई थी.

Powered by Blogger.