7 मार्च तक बंद रहेंगे बाजार, स्कूल-कॉलेजों को फिर से बंद करने का भी जारी हुआ आदेश, जानिए

नागपुर: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को घोषणा की है कि कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर राज्य में सोमवार से सभी राजनीतिक, धार्मिक और सामाजिक जमावड़ों पर रोक होगी। ठाकरे ने लोगों से ‘‘कोविड-उपयुक्त’’ व्यवहार और सुरक्षा मानदंडों का पालन करने की अपील करते हुए कहा कि वह एक सप्ताह से 15 दिनों तक गौर करेंगे और फिर तय करेंगे कि लॉकडाउन लगाया जाए या नहीं। ठाकरे ने राज्य के लोगों से कहा कि ‘‘एक और लॉकडाउन से बचने के लिए मास्क पहनें, अनुशासन का पालन करें और सामाजिक दूरी बनाए रखें।

वहीं, दूसरी ओर हाला को देखते हुए नागपुर जिला प्रशासन ने आगामी 7 मार्च तक सभी स्कूल और कॉलेज बंद रखने का फैसला किया है। इस दौरान मुख्य बाजारों को शनिवार रविवार बंद रखा जाएगा जबकि बाकी दिनों में 50 फ़ीसदी की क्षमता के साथ उन्हें चलाया जा सकता है साप्ताहिक बाजारों को 7 मार्च तक बंद रखने का आदेश प्रशासन ने दिए हैं।

राज्य सरकार में मंत्री नितिन राउत ने कहा कि नागपुर में 7 मार्च तक सारे 7 मार्च तक सारे साप्ताहिक बाजार बंद रहेंगे। इसके साथ ही स्कूल, कॉलेज, कोचिंग भी बंद करने के आदेश दिए गए हैं। शादियों के लिए बुक होने वाले मंगल कार्यालय सामाजिक राजनैतिक और धार्मिक कार्यक्रमों पर आगामी 7 मार्च तक पाबंदी रहेगी। जिला प्रशासन को यह आदेश दिया गया है कि वे तमाम जनता को इन प्रतिबंधों के बारे में सूचित करें ताकि जनता को कम से कम समस्या का सामना करना पड़े।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में पिछले 4 हफ्तों में साप्ताहिक मामलों में वृद्धि होने की प्रवृत्ति देखी गई है। जो 18,200 से बढ़ कर 21,300 हो गई है, जबकि साप्ताहिक पुष्टि की दर 4.7 से बढ़कर 8 फीसदी हो गई है। राज्य में मुंबई उपनगरीय क्षेत्र चिंता का कारण बन गये हैं जहां वायरस संक्रमण के मामलों में 19 प्रतिशत वृद्धि हुई है। नागपुर, अमरावती, नासिक, अकोला और यवतमाल में साप्ताहिक मामले क्रमश: 33प्रतिशत ,47प्रतिशत ,23 प्रतशित ,55 प्रतिशत और 48 प्रतिश्त बढ़ गये हैं।

Powered by Blogger.