MP : ऑपरेशन मुस्कान : 2400 से अधिक लापता लड़कियों का पुलिस ने लगाया पता

Telegram

 

भोपाल. मध्य प्रदेश पुलिस ने लापता हुईं और अपहृत लड़कियों की तलाश में चलाए गए अभियान ‘‘मुस्कान’’ के तहत पिछले माह 2,444 नाबालिग लड़कियों को बचाया है। 

मध्य प्रदेश पुलिस मुख्यालय के एक अधिकारी ने बुधवार को यहां बताया कि जनवरी माह के अंत में लापता और अपहृत लड़कियों के कुल 3,122 मामले लंबित थे। अभियान ‘मुस्कान’ को जनवरी माह में अंजाम दिया गया और इसमें 2,444 लापता और अपहृत लड़कियों को मध्य प्रदेश और के बाहर से बचाया गया। 

अधिकारी ने बताया कि इसमें इन्दौर की 175 बालिकाएं, सागर की 144, धार की 115, रीवा की 107 एवं छतरपुर की 102 बालिकाओं उनके घर वापस पहुंचाया गया। उन्होंने बताया कि अभियान के तहत करीब 82 फीसदी लापता या अपहृत लड़कियाँ प्रदेश में ही मिल गईं जबकि बाकी अन्य राज्यों में मिलीं। अधिकारी के मुताबिक, ‘‘पंजाब से 141, तेलंगाना से आठ, केरल से छह, जम्मू-कश्मीर से पांच, पश्चिम बंगाल से चार, कर्नाटक से तीन-तीन लड़कियों को बचाया गया। जबकि असम और केन्द्र शासित क्षेत्र दमन से एक-एक लड़की को बचाया गया। उन्होंने कहा कि कुछ लड़कियाँ गुजरात, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और राजस्थान में भी मिलीं। 

अधिकारी ने कहा कि अपहरण के प्रत्येक मामले में कार्रवाई की प्रगति की हर तीन दिन में समीक्षा की जाती है । पिछले महीने एक बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए थे कि वे अपहृत बच्चों के माता-पिता को ऐसे मामलों की प्रगति और जांच की स्थिति के बारे में सूचित करें । 

चौहान ने कहा था कि अपहृत बच्चों के माता-पिता को एक ' अधिकार पात्र ' (प्राधिकरण पत्र) मिलेगा, जिसमें बच्चे का पता लगाने की दिशा में पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई के बारे में जानकारी होगी । मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि मार्च 2020 के बाद से मध्य प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ विभिन्न अपराधों में 15 से 50 प्रतिशत की कमी आई है।

Powered by Blogger.