REWA : महिलाएं सीख रहीं हैं बर्गर सैंडविच चौमिन कटलेट बनाना

रीवा । जीवन भर दाल रोटी बना कर जीवन यापन करने वाली गरीब तबके की वह महिलाएं जिन्होंने पश्चिमी सभ्यता के खानपान में शामिल बर्गर सैंडविच कटलेट चौमिन का नाम भी नहीं सुना, ना ही उनका स्वाद पता था। अब ना सिर्फ वह सब सहजता से बना भी रही है और स्वाद चख रही हैं। भविष्य में इससे देश में बढ़ते पश्चिमी सभ्यता के दूर व्यंजनों को व्यवसाय में शामिल होकर रोजगार को प्राप्त करेंगी। साथ ही रुपये भी कमाएंगी। जी हां, देश व समाज के बदलते परिवेश व खानपान में बदलते स्वार्थ के चलते सड़कों में ठेलों से लेकर रेस्टोरेंट फाइव स्टार होटलों पर बनाने वाले इस तरह की सामग्री बड़े ही शौक के साथ खाया जा रहा है। युवा वर्ग के लड़कों व लड़कियों को बड़े बड़े पैमाने पर रोजगार उत्पन्ना्‌ हो रहे हैं। रीवा में इसकी पहल सामाजिक संस्था, बेनिशान, हेल्पिंग, सोशल वेलफेयर और महिला बाल विकास विभाग के इस नवाचार को शासन के फूड क्राफ्ट विभाग के सहयोग से किया जा रहा है।

प्रशिक्षण प्राप्त कर रही हैं दो दर्जन महिलाएं

गरीब तबके के इन महिलाओं और लड़कियों को चिन्हित कर उन्हें 1 सप्ताह के निश्शुल्क परीक्षा प्रशिक्षण के लिए उन्हें इंस्टिट्यूट में भेजा गया है। जहां उन्हें मानदेय के रूप में प्रति सदस्य 1800 रुपये भी दिए जा रहे हैं। इस संबंध में फूड क्राफ्ट संस्था के प्राचार्य बी एस मुंडे ने बताया कि अभी संस्था में दो दर्जन महिलाएं और लड़कियां प्रशिक्षण प्राप्त कर रही है। प्रशिक्षण प्राप्त कर उन्हें रोजगार मिलेगा। होटल मैनेजमेंट सहित विभिन्ना्‌ प्रकार की जो खाद्य सामग्री बन रही है, अंतरराष्ट्रीय स्तर के अनुरूप है।

गोलीकांड की घटना से फिर दहला रीवा, पुलिस का फ्लैग मार्च हुआ फेल, सफारी कार में सवार युवकों ने युवक को मारी गोली : शहर सहित जिले की घेराबंदी

उसमें स्वाद व गुणवत्ता का स्तर बहुत अच्छा है। आने वाले समय में इस तरह के प्रशिक्षण शिविर निरंतर चलते रहेंगे। वही प्रशिक्षण प्राप्त कर रही सदस्य में निर्मला, विश्वकर्मा, आशा सकेत पूनम, बेबी, संगीता, रूबी, पूनम सहित अन्य शामिल है। इस अवसर पर निरीक्षण करने वाली महिला एवं बाल विकास विभाग की जिला अधिकारी श्रीमती प्रतिभा पांडे ने बतलाया कि यह नवाचार है जिसमें समाज की ऐसी महिला और लड़कियों के लिए यह सुनहरा अवसर है जिसमें उन्हे समाज की मुख्यधारा में जोड़ा जा सकेंगा। इस अवसर पर बेनिसन हेल्पिंग सोशल वेलफेयर सोसाइटी सामाजिक संस्था के मार्गदर्शक राकेश येंगल संस्था के अध्यक्ष श्लेषा शुक्ला, अकबर खान, महिला एवं बाल विकास जिला कार्यक्रम अधिकारी विभाग प्रतिभा पांडे, सहायक संचालक आशीष द्विवेदी, बाल संरक्षण अधिकारी स्वाति श्रीवास्तव, फूड क्राफ्ट संस्था के प्राचार्य बी एस मुंडे, कोर्ट को ऑर्डिनेटर तिलेश मोर्बल, आशीष दुबे, दीपू सिंह उपस्थित रहे।

Powered by Blogger.