REWA : नशीली कफ सिरप का कारोबार करने वाले लकी साकेत के ऊपर प्रशासन ने की बड़ी कार्यवाही

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

ऋतुराज द्विवेदी,रीवा। लगातार मिल रही शिकायतों व लंबे समय से नशा कारोबार से जुड़े युवक पर आखिरकार जिला प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई कर दी है नशीली कफ सिरप का कारोबार करने वाले लकी साकेत के बिछिया स्थित मकान में बने तलघर को रविवार को बिछिया थाना प्रभारी जगदीश सिंह ठाकुर की उपस्थिति में तोड़ दिया गया है बताया जा रहा है कि इन दिनों नशीली कफ सिरप का कारोबार करने वाले लकी साकेत के विरुद्ध शहर के विभिन्ना थानों में तकरीबन 1 दर्जन से अधिक अपराध पंजीबद्ध है अभी लकी साकेत नशीली कफ सिरप की तस्करी में केंद्रीय रीवा में बंद है उक्त कार्रवाई पुलिस अधीक्षक रीवा के प्रतिवेदन तथा कलेक्टर रीवा के निर्देश पर हुई है।

क्या था मामला

बता दें कि बिछिया निवासी लकी साकेत लंबे समय से नशे के कारोबार में लिप्त था जिसके तकरीबन एक दर्जन से अधिक मामले शहर के विभिन्ना थानों में दर्ज थे बार-बार समझाई एवं कार्रवाई के बाद भी लकी साकेत नशीली कफ सिरप के कारोबार में जुटा हुआ था। 1 माह पूर्व लकी साकेत के घर में दी गई दबिश के दौरान उसके घर से तकरीबन 15 पेटी नशीली कफ सिरप बरामद की गई थी जिसके बाद से उसे जेल भेज दिया गया था।

तलघर में स्टॉक

बताया गया है कि पुलिस से बचने के लिए उसने अपने घर के अंदर का निर्माण कार्य कराया था जहां पर वह नशीली कफ सिरप को रखता था कई बार पुलिस दबिश देने के बाद भी उक्त तलघर तक नहीं पहुंच पाती थी मुखबिर की सटीक सूचना एवं पुलिस की सक्रियता के कारण पिछली बार दी गई दबिश के दौरान पुलिस ने कल घर का पता लगा लिया था तभी पुलिस अधीक्षक द्वारा उक्त तलघर को तोड़ने के लिए आवेदन जिला कलेक्टर को भेजा था जिस पर कलेक्टर इलैया राजा टी ने उक्त तलघर गिराने के आदेश जारी किए थे उक्त आदेश के परिपालन में ही कल घर तोड़ा गया है।

शराब तस्कर भी

मिली जानकारी में बताया गया है कि लकी साकेत लंबे समय से शराब तस्करी के काम में जुड़ा रहा है लेकिन इस बार जिले में एक शराब ठेकेदार होने के कारण उसने नशीली कफ सिरप की तस्करी करने का काम शुरू कर दिया था वह यूपी इलाहाबाद मिर्जापुर तथा एमपी के कटनी व जबलपुर से नशीली कफ सिरप की खेप लाता था।

Powered by Blogger.