REWA : पुलिस कप्तान के आश्वासन बाद PM कराने को तैयार हुए स्वजन, भाजपा नेता की चाकू से गोदकर कर दी थी हत्या : पांच लोगों पर मामला दर्ज

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

      

रीवा। आरोपियों की गिरफ्तारी करने की मांग को लेकर पीएम न कराने की बात कर रहे स्वजन आखिरकार पुलिस कप्तान राकेश कुमार सिंह के आश्वासन के बाद पीएम कराने के लिए तैयार हो गए मृतक सुरेंद्र तिवारी के शव का पीएम होने के बाद स्वजनों के सुपुर्द शव कर दिया गया है। बता दें कि बीती रात अज्ञात लोगों द्वारा हमला कर भाजपा नेता सुरेंद्र तिवारी की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई थी पुलिस ने सुमन तिवारी के स्वजनों के रिपोर्ट के आधार पर पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर मामले की विवेचना शुरू कर दी है।

बदल रहा कारण

मिली जानकारी के अनुसार उक्त वारदात के 24 घंटे के बाद पुलिस अब अपने ही बयान से पीछे हटती दिखाई दे रही है यहां शुरुआती समय में राजनैतिक प्रतिद्वंद्विता के कारण हत्या होना बताया गया था वही जिन लोगों पर मृतक के स्वजनों ने हत्या का मामला दर्ज कराया है उन्हीं आरोपों के पिता की हत्या भी पीड़ित पक्ष के लोगों द्वारा 15 वर्ष पूर्ण कर दी गई थी हालांकि मृतक द्वारा समय-समय पर अपने राजनीतिक पहुंच का फायदा उठाकर आरोपितों पर लगातार दबाव बनाया जाता रहा है हल्की मारपीट के मामले में 326 का अपराध 2018 में सोहागी थाने में दर्ज कराया गया था।

ये हैं आरोपित

स्वजनों ने जिन 5 लोगों पर मामला दर्ज कराया है उनमें मोनू तिवारी, अनिल तिवारी, राजीव तिवारी, हरि कृष्ण तिवारी व राज जी तिवारी शामिल है। बताया गया है कि इनमें मौके पर तीन लोग ही मौजूद थे हालांकि मृतक के स्वजनों द्वारा पांच लोगों को नाम लिखवाए गए हैं। पुलिस मामले की जांच कर रही है वहीं आसपास के लोगों ने हत्या के समय मौके से तीन लोगों को भागते हुए देखा है बावजूद इसके मृतक के स्वजनों के बयान के आधार पर पुलिस सभी पांच लोगों पर मामला दर्ज कर सभी के गिरफ्तारी के प्रयास तेज कर दिए हैं।

हो सकता है बदला

जानकारी के मुताबिक मामले के मुख्य आरोपित मोनू तिवारी के पिता रवि तिवारी की हत्या 20 वर्ष पूर्व की गई थी उक्त मामले में मृतक सुरेंद्र तिवारी के स्वजन आरोपित बनाए गए थे हालांकि न्यायालय में चले मुकदमे के दौरान साक्ष्य अभाव में सभी को बरी कर दिया गया था जिसके कारण आए दिन झगड़े के दौरान पीड़ित पक्ष के लोगों द्वारा मोनू तिवारी सहित अन्य लोगों को इस बात को लेकर भी दबाव बनाया जाता था जैसे तुम्हारे पिता को मौत की नींद सुला दिए हैं उसी तरीके से अब तुम्हारी बारी है जिसके बाद से पिता के खून का बदला लेने की बात भी प्रकाश में आ रही है।

क्या था मामला

बीती रात सुरेंद्र तिवारी की चाकू मारकर हत्या कर दी गई है। मामला जिले के सोहागी थाना अंतर्गत नोडिया गांव की बताई जा रही है।मिली जानकारी के अनुसार घायल युवक को इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चाकघाट ले जाया गया। जहां पर उसे मृत घोषित कर दिया गया है। मृतक की पहचान सुरेंद्र तिवारी पिता रामनरेश तिवारी के रूप में की गई हैं।

पांच लोगों पर मामला दर्ज

पुलिस ने स्वजनों के आधार पर पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है पुलिस की मानें तो स्वजनों के आधार पर मामला दर्ज किया गया है। पूरा मामला राजनीतिक परिपेक्ष में घटित होना बताया गया है जिन पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है उनका मृतक से राजनीतिक विरोध होना बताया जा रहा है पूरे मामले में अब तक किसी भी प्रकार की गिरफ्तारी नहीं होनी बताएगी है।

चर्चा यह भी...

बताया गया कि जिस युवक की हत्या की गई है वह राजनीतिक पार्टी के अलावा क्षेत्रीय समीकरण पर भी भारी होता दिखाई दे रहा था। इसी स्थिति में वर्तमान भाजपा विधायक श्यामलाल द्विवेदी के विरोध में होने के बावजूद पूर्व भाजपा नेता रमाकांत तिवारी का करीबी बताया जाता रहा था। बावजूद इसके त्योंथर विधायक लगातार हत्या के खुलासे के लिए पुलिस पर दबाव बनाते नजर आ रहे हैं।

इनका कहना है

स्वजनों के आधार पर 5 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। पुलिस मामला दर्ज कर मामले की विवेचना कर रही है।

राकेश कुमार सिंह पुलिस कप्तान, रीवा।

Powered by Blogger.