हथियारबंद बदमाशों दिनदहाड़े किया शिक्षक का अपहरण, 20 लाख की मांगी फिरौती

श्योपुर. जिले के विजयपुर इलाके में एक शिक्षक के अपहरण के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। घटना की सूचना पर पुलिस भी एक्टव हुई और आनन फानन में घेराबंदी शुरु की। शिक्षक पवन गुप्ता गोहटा संकुल के बीसा सहराने प्राथमिक स्कूल में पदस्थ है। हथियारबंद बदमाशों ने गुरुवार 12 बजे उस समय अपहरण कर लिया, जब वे स्कूल जा रहे थे। स्कूल से 100 मीटर पहले घात लगाकर बैठे हथियारबंद बदमाशों ने कनपटी पर बंदूक अड़ा दी और उनके साथ मारपीट की।

लहुलुहान शिक्षक को बदमाश अगवा कर साथ ले गए। ये पूरी घटना एक बच्चे ने देखी और इसकी भागकर इसकी सूचना ग्रामीणों को दी। ग्रामीणों ने इसकी जानकारी गोहटा संकुल के अन्य शिक्षकों को दी। सूचना मिलते ही थाना प्रभारी नरेश कुमार शर्मा मौके पर पहुंचे और जंगल में सर्चिंग शुरू की। मदद के लिए विजयपुर, अगरा, गसवानी, चिलवानी, पहाडग़ढ़, रामपुर, समबलगढ़ थानों की पुलिस को भी बुलाया गया। मौके पर पहुंचे एसपी संपत उपाध्याय और पुलिस बल की घेराबंदी के चलते बदमाश शिक्षक को जंगल में छोड़कर भाग गए। तीन घंटे बदमाशों के चंगुल में रहने के बाद घायल शिक्षक रिहा हो सका।

20 लाख की मांगी थी फिरौती

पुलिस को अपहरण की इस वारदात में कुड्डा गिरोह पर शक है। शिक्षक पवन गुप्ता ने पुलिस को बताया कि पहले उसे दो बदमाशों ने पकड़ा था। कुछ दूर पर पांच और हथियारबंद बदमाश मिले। ये सभी उसे जंगल की ओर लोहाकुंड की ओर ले गए। पुलिस वाहनों के सायरन की आवाज सुनकर बदमाश डर गए और मेरे साथ मारपीट करने लगे। बदमाशों ने धमकाया कि आज छेाड़ रहे हैं, पर २० लाख नहीं मिले तो जान से हाथ धोना पड़ेगा। बदमाशों ने उसे बंदूक की बट से पीटा।

श्योपुर एसपी संपत उपाध्याय ने बताया कि हथियारबंद बदमाश शिक्षका अपहरण कर उसे जंगल में ले गए थे। पुलिस की घेराबंदी के चलते उसे छोड़कर बदमाश भाग गए। गिरोह की जानकारी नहीं लगी है, लेकिन पुलिस पार्टी जंगल में सर्चिंग कर रही है।

Powered by Blogger.