MP : मुख्यमंत्री शिवराज ने दिए निर्देश कहा - नहीं लगेगा LOCKDOWN, अब लॉकडाउन छोड़ अपनाये अन्य सभी उपाय

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

भोपाल। आर्थिक गतिविधियां प्रभावित न हों और जनता को परेशानी भी न हो, इसे मद्देनजर कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन को छोड़कर अन्य सभी उपाय किए जाएं। हमें जनता को जागरूक करना होगा कि सभी मास्क पहनें। शारीरिक दूरी का पालन करें और अनावश्यक भीड़ न लगाएं। इसके लिए जनप्रतिनिधियों, धर्मगुरुओं के साथ सामाजिक कार्यकर्ताओं का सहयोग लिया जाए। यह निर्देश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार देर शाम आवास पर कोरोना की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को दिए।

वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से हुई बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना का संक्रमण फिर बढ़ रहा है। ऐसे समय में शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता कोरोना संक्रमण रोकना है। सभी प्रभारी अधिकारी सक्रिय हो जाएं और अपने-अपने जिलों की प्रतिदिन निगरानी करें। सभी जिले आपदा प्रबंध समूह की बैठक कर जिलों में कोरोना संक्रमण रोकने, जांच और उपचार की व्यवस्था सुनिश्चित करें।

भोपाल में सर्वाधिक प्रकरण

बैठक में कोरोना की जिलेवार समीक्षा की गई। इसमें बताया गया कि भोपाल में सर्वाधिक 382, इंदौर में 326, जबलपुर में 108, बैतूल में 42, ग्वालियर में 41, रतलाम में 38, खरगोन में 35, सागर में 34, उज्जैन में 28, छिंदवाड़ा में 27, बुरहानपुर में 21 और खंडवा में 20 नए प्रकरण आए हैं। पिछले सात दिन के औसत के अनुसार प्रदेश में प्रतिदिन औसत 1019 प्रकरण पॉजिटिव आ रहे हैं। औसत पॉजिटिविटी दर 5.3 प्रतिशत हो गई है।

चल समारोह और मेले प्रतिबंधित

मुख्यमंत्री ने बैठक में कहा कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए जरूरी है कि आगामी त्योहारों पर विशेष सतर्कता बरती जाए। होली हो या फिर शब-ए-बारात आदि त्योहार घर पर ही मनाए जाएं। इन त्योहारों पर चल समारोह प्रतिबंधित रहेंगे। कहीं भी भीड़ करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। सभी जिलों में मेले प्रतिबंधित रहेंगे। जिन जिलों में कोरोना के प्रकरण कम हैं, उन्हें छोड़कर शेष सभी जिलों में सामाजिक गतिविधियां भी प्रतिबंधित रहेंगी। सीमित संख्या के साथ आवश्यक सामाजिक गतिविधियां जिला प्रशासन की अनुमति से की जा सकेंगी।

टल सकता है एक अप्रैल से स्कूल खुलना

बताया जा रहा है कि एक अप्रैल से स्कूल खुलना टल सकता है। मुख्यमंत्री ने एक सवाल के जवाब में कहा कि जो हालात हैं, उसमें यह संभव नहीं है पर विचार करके निर्णय लिया जाएगा।


ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या गूगल न्यूज़ या ट्विटर पर फॉलो करें. www.rewanewsmedia.com पर विस्तार से पढ़ें  मध्यप्रदेश  छत्तीसगढ़ और अन्य ताजा-तरीन खबरें

विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें  7694943182, 6262171534

Powered by Blogger.