MP : एक क्लिक पर मिलेगी मामले की जानकारी, इंदौर हाई कोर्ट का नया मोबाइल एप हुआ लांच

Telegram

अब वकील और पक्षकारों को अपने मामले की जानकारी के लिए कोर्ट के चक्कर नहीं काटना पड़ेगा। एक क्लिक पर उन्हें मामले से जुड़ी तमाम जानकारियां उपलब्ध हो जाएगी। मप्र हाई कोर्ट ने नया मोबाइल एप्लीकेशन लांच कर दिया है।

एक आशिक ऐसा भी! गर्लफ्रेंड को इम्प्रेस करने उसी के घर में डाल दिया डाका, जानिए पूरा मामला

मोबाइल एप्लीकेशन की आनलाइन कार्यक्रम में लांचिंग हुई। मप्र हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश मोहम्मद रफीक कार्यक्रम में शामिल हुए। हाई कोर्ट के न्यायाधीशों और महाधिवक्ता की मौजूदगी में हुए इस कार्यक्रम में मोबाइल एप के बारे में प्रेजेंटेशन के माध्यम से जानकारी दी गई। इस मौके पर जबलपुर मुख्य पीठ के साथ ही इंदौर और ग्वालियर खंडपीठ के बार एसोसिएशन के पदाधिकारी व सहायक सालिसिटर जनरल मौजूद थे।

ध्यान दें : रेलवे ने पांच गुना बढ़ाए टिकट के दाम, अब भोपाल एवं हबीबगंज स्टेशन पर 50 रुपए में मिलेगा प्लेटफॉर्म टिकट

दो घंटे में ही एक हजार से ज्यादा लोगों ने किया डाउनलोड

यह एप्लीकेशन एंड्रॉइड ओएस और एप्पल आइओएस दोनों ही आपरेटिंग सिस्टम पर काम भी करेगी। एप के लांचिंग के दो घंटे के भीतर ही एक हजार से ज्यादा लोगों ने इसे डाउनलोड कर रजिस्ट्रेशन भी करा लिया। यह एप्लीकेशन "हाई कोर्ट आफ मप्र ई सर्विसेस" नाम से उपलब्ध है। एप में रजिस्ट्रेशन कराने वाले याचिकाकर्ताओं को 'माय डायरी" की सुविधा मिलेगी। इसमें उपयोगकर्ता या अधिवक्ता लंबित और निपटाए गए मामलों की जानकारी को एक सूची के रूप में बनाकर अपने पास रख सकते हैं। इसके अलावा अगर आपका मोबाइल नंबर एप पर रजिस्टर्ड है तो आप 'फ्री टेक्स सर्च" के माध्यम से अन्य मामलों को ढूंढ भी सकते हैं। अभी एप्लीकेशन का शुरुआती वर्जन लान्च किया गया है। कुछ दिनों बाद जरूरी बदलावों के साथ इसका नया वर्जन आ जाएगा। इसमें पीडीएफ डाउनलोड करने की सुविधा मिलेगी।

Powered by Blogger.