कोरोना को लेकर हो जाईये एक दम सतर्क : कोविड रिपोर्ट निगेटिव आए ताे न करें अनदेखा, हो सकता है लंग्स इंफैक्शन

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

हाेशंगाबाद। बेशक कोरोना का संक्रमण है लेकिन वायरल फीवर (सर्दी, जुकाम, खांसी) और लू का भी मौसम है। हर दिन वायरल फीवर और लू (जनरल मेडिसिन) से आने वाले बुखार के मरीजों से अस्पतालों की ओपीडी भरी है। जिला अस्पताल में ही अप्रैल के 17 दिनों में वायरल फीवर के 4086 मरीज पहुंचे, जबकि मार्च में 7329 मरीज पहुंचे थे।

सरकारी अस्पताल में कोविड के डर कारण हर दिन एक प्राइवेट अस्पताल में 40 से 50 वायरल के मरीज पहुंच रहे हैं। सर्दी, खांसी, तेज बुखार हाेने के कारण डाॅक्टर काेराेना जांच के साथ सीटी स्कैन की जांच रिपाेर्ट भी मांग रहे हैं। डॉक्टरों के मुताबिक कोरोना खतरनाक है- लंग्स में ज्यादा इंफैक्शन कर रहा है। कोविड रिपोर्ट भले निगेटिव आई हो, अगर लंग्स इंफैक्शन है ताे इसे अनदेखा न करें। संभव हाे ताे सिटी स्कैन कराएं।

प्राइवेट लैब में सिटी स्कैन के दाेगुने रेट

शहर की अलग-अलग पैथाेलाॅजी लैब और सीटी स्कैन सेंटराें पर 100 से अधिक लाेग लंग्स इंफैक्शन की जांच कराने राेज पहुंच रहे है। निजी पैथाेलाॅजी लैब में सीटी स्कैन के 2500 से 3000 रुपए तक वसूले जा रहे हैं। वहीं जिला अस्पताल में 1100 से 1500 रुपए तक की सीटी स्कैन हाे रही है। इसके कारण सिटी स्कैन सेंटराें पर सुबह से नंबर बुकिंग कर नंबर लगाया जा रहा है। लाेग अपने नंबर आने का घंटाें इंतजार कर रहे हैं।

कोरोना नहीं पर, सिटी स्कैन रिपोर्ट पॉजिटिव

ज्यादातर मरीज काेराेना के निकल रहे हैं। इसलिए जरूरी है कि वह लक्षण आने पर काेराेना की जांच भी करवाएं। कई केस निगेटिव आने के बाद उनकी सीटी रिपाेर्ट पाॅजिटिव आती है। एहतियात के ताैर पर सीटी स्कैन रिपाेर्ट करवाई जाती है। - डाॅ. आरके गंगराड़े, सीनियर डाॅक्टर, जिला अस्पताल

बुखार, खराश को अनदेखा न करें

इन दिनाें काेराेना के साथ वायरल फीवर का भी दौर चल रहा है। कोरोना वायरस ने अपना नेचर बदला है। सामान्य बुखार, खांसी, खराश को अनदेखा न करें। डॉक्टर की सलाह लें। संभव हो तो सरकारी अस्पताल में कोविड जांच कराएं। काेराेना के लक्षण लगने पर सुरक्षा बरतें। - डॉ. हर्षल कावरे, एमडी मेडिसन

​​​​​​​शनिवार को 184 नए संक्रमित मिले

शनिवार को कोरोना के 184 पॉजिटिव केस मिले। इनमें होशंगाबाद में 12, इटारसी में 50, सिवनीमालवा में 3, सोहागपुर में 14 पिपरिया में 28, बनखेड़ी में 48, डोलरिया में 4, केसला में 22 और बाबई में 3 केस हैं।

राहत भी.. 3 दिन में 113 मरीज स्वस्थ

कोरोना से पिछले 3 दिन में कुल 113 मरीज डिस्चार्ज हुए हैं। शनिवार को 11 मरीज स्वस्थ होकर घर लौटे हैं। इटारसी में 6 ,बनखेड़ी में 3, होशंगाबाद में 1 एवं पिपरिया से 1 मरीज शामिल हैं। शनिवार को 11 मरीज स्वस्थ हुए।

सतर्कता इसलिए जरूरी

3 भाइयों ने जान गंवाई, सदमे में बहन भी चल बसी...

वैक्सीन लगवाई, पता नहीं कैसे संक्रमित हुए

पुरानी इटारसी में चार दिन के अंतराल में एक परिवार के तीन भाई विनोद पटेल (72), राजेश पटेल (68) व राकेश पटेल (65) कोरोना से जूझते हुए नहीं रहे। तीनों भोपाल के अलग-अलग हॉस्पिटल में एडमिट थे। सबसे छोटे राकेश 12 अप्रैल को नहीं रहे। बड़े भाई का देहांत 14 अप्रैल को हो गया। फिर अगले दिन मंझले भाई का निधन हो गया।

इनको तो बुखार भी नहीं आया था पर लंग्स में इंफैक्शन फैल चुका था। एक के बाद एक तीन भाइयों की मौत की खबर से परिवार संभला नहीं था तभी घाटली में इनकी 60 वर्षीय बहन लता वर्मा सदमे में चल बसीं। परिवार के सदस्य सचिन पटेल (40) ने बताया पिता व दोनों काका खेती करते थे। इनको कोरोना की वैक्सीन का पहला डोज लग चुका था। पता नहीं कैसे कोरोना का संक्रमण हो गया।

लंग्स में इंफैक्शन था, कोरोना जांच नहीं हुई

पुरानी इटारसी में किराए के मकान में रहने वाले केसला ब्लाॅक के रिटायर्ड शिक्षक प्रमोद पांडे के परिवार का है। उन्होंने तीन दिन के भीतर पिता और छोटे भाई को खोया है। पिपरिया में रह रहे पिता लक्ष्मी प्रसाद पांडे (94) बाजार की दुकान पर बैठते थे। बुखार आया तो निजी डॉक्टर को दिखाया। चेस्ट में इंफेक्शन था।

उनका कोरोना टेस्ट नहीं हुआ। 9 अप्रैल की रात घर में ही इलाज करते हुए दम तोड़ दिया। प्रमोद कहते हैं उनके छोटे भाई अशोक पांडे 61 वर्ष के थे। वे हार्ट पेशेंट थे। सांस लेने में दिक्कत आने पर सीटी स्कैन जांच हुई। इनका भी कोरोना टेस्ट नहीं हुआ। पिपरिया के सरकारी में भर्ती किया। यहां से होशंगाबाद रेफर कर दिया जहां मौत हो गई। इनके 33 वर्षीय बेटे की टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

यह रखें सावधानी

सभी मास्क और सैनिटाइजर का उपयोग करें। गर्म पानी पीयें। घर से जरूरी होने पर ही निकलें। कोरोना से जान गंवा चुके लोगों के परिजन पूरी सतर्कता रख रहे हैं।

Powered by Blogger.