उज्जैन के निजी अस्पताल में लगी भीषण आग : 80 मरीजों की जान पर आफत, चार मरीज आग से झुलसे, एक की हालत गंभीर

Telegram

उज्जैन के फ्रीगंज में एक निजी अस्पताल के कोविड वार्ड में रविवार सुबह करीब 11:30 बजे आग लग गई। आग से 4 मरीज झुलस गए। एक की हालत गंभीर बताई जा रही है। घटना के वक्त अस्पताल में 80 मरीज भर्ती थे। इनमें 24 कोविड मरीज थे। सभी मरीजों को दूसरे अस्पतालों में शिफ्ट कर दिया गया है। आग की वजह शॉर्ट सर्किट को बताया जा रहा है।

फ्रीगंज में पाटीदार हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर नाम से उमाशंकर पाटीदार का अस्पताल है। दो मंजिल के इस निजी अस्पताल में जिलेभर के मरीज आते हैं। रविवार की सुबह करीब 11:30 बजे अस्पताल की दूसरी मंजिल पर कोविड वार्ड में तैनात वॉर्ड बॉय ने धुआं उठते देखकर प्रबंधन को इसकी सूचना दी। देखते देखते ही अस्पताल में धुआं फैल गया। खिड़कियां तोड़कर किसी तरह मरीजों को निकाला गया। सूचना मिलने पर फायर ब्रिगेड की 4 गाड़ियों ने आधे घंटे में आग पर काबू पाया।

80 मरीजों को दूसरे अस्पतालों में भेजा गया

आग लगने पर अस्पताल में भर्ती सभी 80 मरीजों को निकालने का काम शुरू किया गया। इनमें महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं। भर्ती मरीजों के परिजन भी अस्पताल में ही मौजूद थे। करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद 20 एम्बुलेंस की मदद से मरीजों को शिफ्ट किया गया। इन मरीजों में से कुछ को आरडी गार्डी और गुरुनानक अस्पताल भेजा गया। आग से कोविड वार्ड में मौजूद सभी मशीनें और फर्नीचर भी जल गया।

नहीं बजा अलार्म, फायर सेफ्टी पर सवा

अस्पताल में फायर अलार्म सिस्टम लगा हुआ था, लेकिन घटना के वक्त फायर अलार्म नहीं बजा। इससे अस्पताल की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल उठ रहे हैं। बताया जा रहा है कि आग बुझाने वाले उपकरण भी ठीक नहीं थे। हालांकि, अस्पताल मैनेजमेंट ने दावा किया है कि फायर ब्रिगेड के पहुंचने से पहले ही आग को काबू कर लिया गया था।

Powered by Blogger.