वैक्सीन रजिस्ट्रेशन : 1 मई से, गंभीर बीमार हैं तो डॉक्टर से सलाह लेकर लगवाएं वैक्सीन

भोपाल। देश में कोरोना वैक्सीनेशन के तीसरे फेज की शुरुआत हो रही है। एक मई से 18 साल के ऊपर के उम्र के लोगों को भी कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन लगाई जाएगी। वैक्सीनेशन के दो फेज होने के बावजूद लोगों के मन में कई तरह के सवाल हैं। जैसे 18 साल से ऊपर सभी लोग वैक्सीन ले सकते हैं? क्या अब 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को टीका नहीं लगेगा? कौन-कौन लोग हैं, जिन्हें वैक्सीन नहीं लेना चाहिए या चिकित्सकों से परामर्श करना चाहिए। जानिए वैक्सीनेशन के बारे में वह सब कुछ जो आपके मन में है

तो 45 साल से ऊपर के लोगों को टीका लगेगा?

जवाबः ऐसा नहीं है। अब 18 साल से ऊपर के उम्र के हर व्यक्ति को टीका लगेगा, चाहे उसकी उम्र 45 साल हो या फिर 60 साल। यदि किसी की उम्र 45 साल से ज्यादा है तो टीका लगवाने के लिए किसी चिकित्सक से मिले कोमारबिड सर्टिफिकेट की जरूरत पड़ेगी।

ऐसे कौन लोग हैं जो टीका नहीं लगवा सकेंगे?

जवाबः अब तक वैक्सीन के साइड इफेक्ट नहीं मिले हैं पर सावधानी के लिए सरकार ने कुछ नियम बनाए हैं। व्यक्ति गंभीर बीमारे से जूझ रहा है, तो वैक्सीन से पहले डाक्टर से सलाह लें। गर्भावस्था के दौरान या स्तनपान कराने वाली महिलाएं वैक्सीन से बचें।

कोरोना पाजिटिव टीका लगवा सकते हैं?

जवाबः यदि कोई कोरोना पाजिटिव हैं तो वे निगेटिव रिपोर्ट आने के 15 दिन तक वैक्सीन नहीं लगवा सकते।

कैंसर या कोरोना में प्लाज्मा थैरेपी के बाद वैक्सीन ले सकते हैं?

जवाबः कैंसर के लिए कीमोथैरेपी ले रहे हैं तो एक माह बाद ही वैक्सीन ले सकते हैं। कोरोना के लिए प्लाज्मा थैरेपी हो रही है तो वैक्सीन न लगवाएं।

एल्कोहल लेने वालों के लिए क्या?

जवाबः वैसे तो अभी तक ऐसे डेटा नहीं मिले हैं, पर एल्कोहल इम्युनिटी कम करता है। वैक्सीनेशन तीन दिन पहले और बाद में शराब न पीएं।

रजिस्ट्रेशन कैसे और कहां होगा?

जवाबः आप co-win एप या उसकी कोविन वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। आयोग्य सेतु एप (arogya setu) से अप्वाइंटमेंट ले सकते हैं। रजिस्ट्रेशन कराते समय दो बातों का ध्यान रखना है। पहले मोबाइल नंबर डालने के बाद ओटीपी आएगा। जिसके बाद नाम, आधार कार्ड नंबर और जन्म तारीख भरना होगा। इसके बाद अपने क्षेत्र का पिनकोड नंबर डालेंगे। इसके बाद आपके क्षेत्र के अस्पतालों के नाम आ जाएंगे। जिसमें आप अप्वाइंटमेंट बुक कर सकते हैं।

एक नजर

130 वैक्सीनेशन सेंटर

89 सरकारी अस्पताल

46 प्राइवेट अस्पताल

504951 कुल वैक्सीन डोज

433123 पहला डोज

71828 दूसरा डोज

241493 पुरुष

191586 महिला

रीवा न्यूज़ मीडिया .कॉम की अपील

एक्सपर्ट का कहना है कि वैक्सीनेशन कोरोना को रोकता नहीं, उसकी संक्रमण की दर को रोकता है। ऐसे में यह सोचना कि वैक्सीनेशन के बाद कोरोना नहीं होगा, यह मानना गलत है। वैक्सीनेशन के बाद भी कोरोना गाइडलाइन जैसे मास्क, दूरी का कड़ाई से पालन करना होगा। रीवा न्यूज़ मीडिया .कॉम भी आपसे अपील करता है कि नियमों का पालन कर खुद स्वस्थ रहें और अपने परिवार को भी इस महामारी से सुरक्षित रखें।

Powered by Blogger.