MP : मुस्लिम इलाके में दुकान बंद कराने पहुंची पुलिस पर फेंकी खौलती चाय, महिलाओं ने बरसाए पत्थर

Telegram

भोपाल। राजधानी भोपाल में काजी कैंप में नाइट कर्फ्यू के दौरान पुलिसकर्मियों पर कुछ लोगों ने हमला कर दिया। बताया जा रहा है कि पुलिस की टीम नाइट कर्फ्यू के दौरान चाय की दुकान बंद कराने काजी कैंप पहुंची। लेकिन चाय वाले और उसके बेटे ने खौलती हुई चाय पुलिसकर्मियों के ऊपर फेंक दी। इसबीच दुकान संचालक ने पुलिसकर्मियों के साथ धक्का-मुक्की भी की। वहीं इलाके की महिलाओं ने छत से पुलिसकर्मियों पर पत्थर भी बरसाए, जिसमें पुलिस कर्मियों समेत तीन ASI घायल हो गए। मामले में पुलिस ने 9 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। 

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में फिर हुआ IED ब्लास्ट, 22 जवानों शहीद जबकि 1 जवान के घायल होने की खबर

मामला राजधानी के काजी कैंप का है। जहां पर रात 11 बजे हनुमानगंज पुलिस की टीम नाइट कर्फ्यू को लेकर चाय की दुकान बंद करवाने पहुंची थी। यहां पर जाहिर नाम का शख्श अपने ही घर के नीचे चाय बेचता है। इस बीच SI संजय दुबे, ASI अरविंद जाटव, हेड कांस्टेबल लोकेन्द्र जोशी दुकान बंद करवाने काजी कैंप की गली नंबर चार में पहुंचे। दुकान के पास 15 से 16 लोग मौजूद थे। इस बीच जैसे ही ASI ने दुकान बंद करने की बात कही तो दुकान मालिक जाहिर के बेटे सावेज को गुस्सा आ गया और खौलती हुई चाय उसने ASI अरविंद जाटव के ऊपर फेंक दी। वहीं जाहिर ने भी ASI को चाय से भरी ग्लास फेक कर मारी। 

होटल बंद करवाने के गए पुलिसकर्मियों पर डाल दी गरम चाय : 16 लोगों पर मामला दर्ज, 9 लोग गिरफ्तार

जिससे ASI का एक हाथ जल गया। इसी बीच दुकान पर मौजूद लोगों ने भी पुलिसकर्मियों से धक्का मुक्की की। जिसमें हेड कांस्टेबल लोकेंद्र को भी चोटें आई हैं। मामला बिगड़ता देख पुलिसकर्मियों ने थाने से मदद मांगी। हालांकि पुलिस की टीम पहुंचने से पहले ही लोग वहां से भाग गए। इस बीच इलाके की महिलाओं ने भी पुलिसकर्मियों पर छत से पत्थर बरसा दिए। जिसके चलते पुलिस ने 16 लोगों के खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा डालने के आरोप में मामला दर्ज किया है।

चाय वाले के परिजनों ने भी लगाए पुलिस पर आरोप

वहीं आरोपी जाहिर के परिजनों ने भी पुलिस कर्मियों पर घर में घुसकर महिलाओं से मारपीट व अभद्रता करने के आरोप लगाए हैं। परिजनों का कहना है कि 9 साल की मासूम बच्ची के साथ बेरहमी से पिटाई की गई। वहीं एक बुजुर्ग महिला को भी पुलिस ने पीटा है।

Powered by Blogger.