UP समेत अन्य प्रदेशों में रोके जा रहे MP के ऑक्सीजन टैंकर : शिवराज बोले- ऑक्सीजन रोकना अपराध, ऐसे अफसरों पर कार्यवाही हो

कोरोना की दूसरी लहर में मरीजों की संख्या मे बेतहाशा बढ़ोतरी होने के कारण ऑक्सीजन काे लेकर मारामारी चल रही है। प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी के कारण गंभीर मरीजों के दम तोड़ने के मामले बढ़ते जा रहे हैं। इस बीच मध्यप्रदेश के ऑक्सीजन के टैंकर अन्य प्रदेशों में रोके जा रहे हैं। सोमवार को गाजियाबाद के मोदी नगर और झांसी में अफसरों ने MP आ रहे ऑक्सीजन टैंकर रोक लिए।

मंत्रालय सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसको लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बात की। इसके बाद टैंकर छोड़े गए। इसी तरह गुजरात में भी टैंकर को रोका गया। ये टैंकर मध्य प्रदेश तब रवाना हो पाए, जब शिवराज ने गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी से बात की।

इन घटनाओं को मुख्यमंत्री ने मंत्रियों के साथ हुई बैठक में भी सांझा किया। इस पर कुछ मंत्रियों ने सुझाव दिया कि जिस तरह से देश में काेरोना संक्रमण बढ़ता जा रहा है, इस तरह की दिक्कतें हर रोज सामने आएंगी। लिहाजा गृह मंत्री से बात कर स्थाई समाधान होना चाहिए। एक मंत्री ने यह सुझाव दिया कि ऑक्सीजन के टैंकरों में मप्र पुलिस के जवानों के बजाय गृह मंत्रालय से CRPF के जवानों को तैनात करने बात होना चाहिए।

Powered by Blogger.