REWA : राजस्व वसूलने नगर निगम अमला बाजार में उतरा : टारगेट पूरा करने और बकाया वसूली को लेकर सक्रिय

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

                

रीवा। नगर पालिक निगम का बकाया टैक्स वसूलने के लिए इन दिनों ननि का अमला शहर में मुस्तैद है और आए दिन शहर के मुख्य बाजार सहित अन्य व्यापारिक प्रतिष्ठानों में ननि का अमला पहुंचकर राजस्व की वसूली करने में लगा हुआ है। जानकारी के मुताबिक नगर निगम को 20 करोड़ के राजस्व की वसूली का टारगेट तय किया गया है। जिसके चलते इन दिनों ननि का अमला मुस्तैदी के साथ बाजार में राजस्व वसूली करने में लगा हुआ है। बताया जा रहा है कि पिछले 12 वर्षो से राजस्व की वसूली बकाया है और पुराना टैक्स वसूलने के लिए नगर निगम कमिश्नर के निर्देश पर सम्पत्ति कर शाखा की टीम उक्त राजस्व को वसूलने के लिए व्यापारियों के पास सीधे तौर पर वसूली करने के लिए पहुंच रही है। नगर निगम की इस सक्रियता से व्यापारियों में भी खलबली है। ननि अधिकारियों ने बताया कि पूर्व में ही व्यापारियों को सूचित किया गया था कि वे टैक्स जमा करने के साथ ही बाजार को नियम के तहत संचालित करें। बावजूद इसके व्यापारियों की निष्क्रियता के चलते ननि का अमला मैदान पर उतरा है।

पूर्व में की गई थी तालाबंदी

लगभग एक माह पूर्व ननि का अमला शहर के शिल्पी प्लाजा सहित बाजार क्षेत्र में भ्रमण करके बकाया वसूली करने के लिए व्यापारियों पर दवाब बनाने के साथ ही दुकानों को सील करने की कार्रवाई भी किया था। हालांकि व्यापारियों द्वारा मांगी गई मुहलत और राशि जमा करने के बाद ननि का अमला शांत हो गया। कार्रवाई शांत होने के चलते टैक्स जमा करने में व्यापारियों में रूचि नहीं दिखाई। यही वजह रही कि एक बार फिर बकाया टैक्स वसूलने तथा ननि अमले को दिए गए करोड़ों के टारगेट को पूरा करने के लिए कार्रवाई की जा रही है।

बरामदें से हटाया गया अतिक्रमण

शिल्पी प्लाजा बाजार सहित मार्तण्ड काम्पलेक्स, अम्बेडकर बाजार, अपना बाजार, दीप कॉम्पलेक्स आदि ऐसे प्रमुख बाजार हैं जहां व्यापारियों द्वारा व्यापक पैमाने पर अतिक्रमण किया गया है। दुकान से ज्यादा व्यापारियों का सामान बनाए गए बारामदें एवं सड़क पर रखे हुए हैं और ननि अमले ने व्याप्त अतिक्रमण को हटाने की भी कार्रवाई की है। अतिक्रमण होने के चलते इसका असर सीधे सड़क पर पड़ रहा है। दुकान के साथ बरामदे का निर्माण कार्य बाजार खरीदी करने वाले पहुंचने वाले ग्राहकों को पैदल चलने के लिए करवाया गया था। लेकिन व्यापारियों ने उसमें कब्जा जमा लिया। यही वजह है कि पैदल चलने वाले लोग सड़क मार्ग का उपयोग कर रहे हैं। तो वहीं उनके वाहन बीच सड़क में खड़ा होने से बाजार का आवागमन प्रभावित हो रहा। इस अव्यवस्था से बाजार की सूरत पर भी प्रभाव पड़ रहा। जिसके चलते ननि अमला दुकान के बाहर रखे हुए व्यापारियों के सामान तथा सजावट के गुड्डी, गुड्डा आदि को हटवाने की कार्रवाई भी कर रहा है।

Powered by Blogger.