छतरपुर : घर से घूमने निकले युवकों पर SP ने भाजी लाठियां, 22 अप्रैल की सुबह तक लगा कोरोना कर्फ्यू

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

 

छतरपुर . लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए जिला प्रशासन ने छतरपुर जिले में 14 अप्रैल की देर रात से 22 अप्रैल की सुबह तक का कोरोना कर्फ्यू लगाया है। लेकिन शहर के युवक इस कोरोना कर्फ्यू का पालन न करते हुए सड़कों पर बिना कार्य के घूम रहे हैं। गुरुवार की दोपहर कलेक्टर शीलेंद्र सिंह और एसपी सचिन शर्मा एक साथ शहर की सड़कों पर निकले और अनावश्यक घूम रहे लोगों से आने-जाने का कारण पूछा।

सटीक उत्तर न पाए जाने पर कलेक्टर ने फटकार लगाई, वहीं एसपी ने मुर्गा बनाकर लाठियों से स्वागत किया। जिला प्रशासन द्वारा लगाए गए कोरोना कर्फ्यू का पालन कराने के लिए गुरुवार की दोपहर कलेक्टर शीलेंद्र सिंह और एसपी सचिन शर्मा एक साथ शहर में निकले। सबसे पहले एसपी, कलेक्टर छत्रसाल चौराह से महल तिराहा होते हुए गांधी चौक स्थित चौक बाजार पहुंचा।

यहां पर कलेक्टर और एसपी ने बाइक पर सवार होकर घूम रहे युवकों को रोका और कहां से आए और कहां जा रहे हो? इस बात की जानकार ली। जिन लोगों से अधिकारी संतुष्ट नहीं हुए उन युवकों को बीच रोड पर कुछ समय के लिए मुर्गा बनाया साथ ही लाठियों से स्वागत किया, इसके बाद हिदायत देते हुए जाने दिया। इसके बाद यह काफिला संकट मोचन तालाब से होते हुए नया मुहल्ला तिराहा पहुंचा।

वहां पर सामने से आ रही एक कार को रोका, जिसमें एक वृद्ध सहित 4 लोग सवार थे। एसपी ने वृद्ध को छोड़कर तीनों युवकों को मौके पर कुछ समय के लिए मुर्गा बनाया और आगे से चार पहिया वाहन में तीन के स्थान पर चार लोगों का न बैठाने की समझाइश देते हुए जाने दिया। इसके बाद यह काफिला बस स्टैंड, जवाहर रोड होते हुए छत्रसाल चौराह पर पहुंचकर खत्म हो गया।

Powered by Blogger.