MP : सेल्स एग्जीक्यूटिव ने कोरोना कर्फ्यू में खरीदी अवैध शराब, पीते ही बिगड़ी हालत, मौत

   

ग्वालियर। कोरोना कर्फ्यू के बीच एक कंपनी का सेल्स एग्जीक्यूटिव अवैध शराब खरीद लाया। पार्टी करने के बाद अचानक उसकी हालत बिगड़ने लगी और मुंह से झाग निकलने लगा। दोस्त लेकर अस्पताल पहुंचा तो वहां उसने कुछ देर उपचार के बाद दम तोड़ दिया। घटना शनिवार रात 12 बीघा कॉलोनी बहोड़ापुर की है। घटना का पता उस समय लगा जब मृतक की पत्नी के कई बार फोन करने पर भी कॉल रिसीव नहीं हुआ। इस पर मृतक के दोस्त को घर देखने के लिए भेजा तो वह बेहोश पड़ा था। बेड पर अंग्रेजी शराब के दो खाली क्वार्टर भी पड़े हुए थे। तत्काल पुलिस को मामले की सूचना दी। पुलिस ने अस्पताल पहुंचकर शव को निगरानी में लिया है। परिवार ने अवैध जहरीली शराब से मौत की आशंका जताई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

बहोड़ापुर थानाक्षेत्र के अपना घर कॉलोनी 12 बीघा निवासी प्रदीप शर्मा स्लीपवैल कंपनी में सेल्स एग्जीक्यूटिव थे। अपनी पत्नी व 11 वर्षीय बेटे के साथ किराए का मकान लेकर रहते हैं। प्रदीप मूल रूप भिण्ड के रहने वाले थे लेकिन बीते कई वर्षों से ग्वालियर में जॉब के चलते यहीं रहते थे। दो दिन पहले प्रदीप की पत्नी दिल्ली में रहने वाले अपने रिश्तेदार के यहां गई थी और बेटे को गोला का मंदिर क्षेत्र के नाना नगर में रहने वाली अपनी मां के घर छोड़ गईं थी। इधर शहर में कोरोना कर्फ्यू लगे होने के कारण प्रदीप घर में अकेला रह रहा था। रात को प्रदीप ने किसी के साथ पार्टी की है। जिसमें उसने शराब भी पी है। शराब पीने के बाद उसकी हालत बिगड़ी और अस्पताल में उसने दम तोड़ दिया।

बेड पर पड़े मिले शराब के क्वार्टर

प्रदीप के दोस्त प्रतीक चौहान जो कि उसके घर के पास ही रहता है शनिवार रात उसके पास प्रदीप की पत्नी का फोन आया था। पत्नी ने बताया कि प्रदीप कॉल रिसीव नहीं कर रहा है। आप उन्हें देखकर बताएं क्या परेशानी है। प्रतीक जब उसके घर पहुंचा तो दरवाजा अंदर से बंद था। संदेह होने पर उसी मकान में रहने वाले एक अन्य किराएदार की मदद से दरवाजा खोला तो दोनों के पैरों तले जमीन खिसक गई। प्रदीप बेहोश पड़ा था और उसके मुंह से झाग निकल रहा था। उसे गंभीर हालत में जेएएच पहुंचाया। जहां उसने रात को दम तोड़ दिया। प्रदीप के कमरे में अंग्रेजी शराब के दो खाली क्वार्टर के साथ गिलास में पैग बना रखा था। अस्पताल की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची बहोड़ापुर पुलिस ने शव को निगरानी में लेकर पोस्टमार्टम कराया है। साथ ही मामले की जांच कर रही है।

कहां से आई शराब, किसके साथ पी

प्रदीप की मौत के बाद कई सवाल खड़े हो रहे हैं। कोरोना कर्फ्यू में उसे शराब कहां से मिल गई। क्योंकि सारी दुकाने बंद हैं। साथ ही रात को उसके साथ कौन बैठकर पी रहा था। यह भी रहस्य बना हुआ है। आशंका है कि अवैध जहरीली शराब से उसकी मौत हुई है। पुलिस पड़ताल कर रही है और पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है।

Powered by Blogger.