MP : इंदौर में भीषण हादसा : नौलखा चौराहे पर पांच दुकानों में लगी भीषण आग ; एक की मौत

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

इंदौर में शुक्रवार को भीषण आगजनी में तीन दुकानें जलकर राख हो गईं। आग नवलखा चौराहे पर स्थित दुकानों में लगी थी। आग की चपेट में आने से रेस्टोरेंट के भीतर सो रहे एक हम्माल की मौत हो गई। काफी मशक्कत के बाद दमकल की टीम ने आग पर काबू पाया। दुकान में रखा लाखों रुपए का सामान बुरी तरह जलकर खाक हो गया है। प्रारंभिकतौर पर आग लगने का कारण शॉर्ट सर्किट बताया जा रहा है।

CM शिवराज का स्वास्थ्य कर्मियों को सम्बोधन; कहा -परिवार को मिलेगी 50 लाख की सम्मान निधि : देखरेख भी शासन की जिम्मेदारी

मिली जानकारी अनुसार नवलखा चौराहे से लगी दुकान में सुबह शॉर्ट सर्किट से अचानक आग भभक गई। आग जूते-चप्पल से होते हुए मेडिकल शॉप और चश्में की दुकान तक पहुंच गई। पांच दुकानों में आग इतनी तेजी से फैली की पलभर में ही सारा सामान धू-धूकर जलने लगा। लोगों ने जैसे-तैसे आग पर काबू पाने की कोशिश की, लेकिन वे नाकाम रहे। सूचना के बाद पुलिस और फायर टीम मौके पर पहुंची और तत्काल आग पर काबू पाना शुरू किया। करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया गया। जब तक आग बुझती, दुकान में सो रहे बंशी काका नामक व्यक्ति जल चुका था। फायर टीम ने दुकान के भीतर से उनकी अधजली लाश को बाहर निकाला और पुलिस ने उसे अस्पताल पहुंचाया। बताया जा रहा है कि वह यहां पर हम्माली का काम करता था और दुकान में ही सो जाया करता था।

कोरोना कर्फ्यू में रिश्तेदार के यहां कार्यक्रम में बाइक से जा रहे मां-बेटे की हत्या; हत्या का प्रकरण दर्ज : जांच जारी

एक दुकान से धुआं उठता देखा दौड़कर आया

प्रत्यक्षदर्शी के अनुसार आग सुबह साढ़े 7 बजे के करीब लगी थी। मैं चौराहे के पास खड़ा था, उसी दौरान एक दुकान से धुआं निकलता दिखा। इसके बाद मैं दौड़कर आया और पड़ोसियों को जगाया। इसके बाद पुलिस और फायर टीम को सूचना दी। जब तक फायर टीम ने आग पर काबू पाया। रात में यहां सोने वाले बंशी जल चुके थे। आग ने मेडिकल, जूते-चप्पल और एक ऑफिस को पूरी तरह से चपेट में ले लिया है।

Powered by Blogger.