MP : शुरू हुआ सतना और खरगोन में आनलाइन लाइसेंस बनना, इंदौर में करना होगा इंतजार

Telegram

परिवहन विभाग ने आखिरकार प्रदेश के दो जिलों सतना और खरगोन से घर बैठे लर्निंग लाइसेंस बनाने की सुविधा शुरू कर दी है, लेकिन इंदौर में इस सुविधा के लिए अगले सप्ताह तक का इंतजार करना पड़ सकता है।

आरटीओ अधिकारियों के अनुसार सोमवार से सतना और खरगोन आरटीओ में इसकी शुरुआत हो गई है। अभी यहां पर ट्रायल चल रहा है। जिसके बाद इसे प्रदेश के दूसरे शहरों में लागू किया जाएगा। पहले इसे एक अप्रैल से पूरे प्रदेश में लागू किया जाना था, लेकिन अब आगे बढ़ा दिया गया है। पहले चरण में लर्निंग लाइसेंस को आनलाइन करने के बाद डुप्लीकेट, रिन्यूअल लाइसेंस का काम भी घर बैठे हो जाएगा। जानकारी के अनुसार केंद्र सरकार के सारथी सर्वर से जुड़ने में आ रही दिक्कत के कारण इसमें देरी हो रही है। अभी प्रदेशभर में लाइसेंस से जुडे तकनीकी काम स्मार्ट चिप कंपनी देखती है। परिवहन विभाग पहले नवंबर से इसे शुरू करना चाहता था, लेकिन अब इसे अप्रैल से शुरू किया गया है। हालांकि पक्के लाइसेंस बनाने के लिए आवेदक को आरटीओ ही जाना होगा।

आधार की सहायता से बनेंगे लाइसेंस

अधिकारियों ने बताया कि घर बैठे लाइसेंस बनवाने के लिए आधार कार्ड का होना बहुत जरूरी है। केंद्र सरकार द्वारा लाइसेंस से जुड़े कामों के लिए आधार कार्ड के डेटा का उपयोग करने की अनुमति दी गई है। ऐसे में आवेदक घर पर आधार कार्ड की सहायता लेकर घर से ही लाइसेंस बनवा सकेंगे। आवेदन करते समय आधार कार्ड का नंबर डालते ही मोबाइल पर एक ओटीपी आएगा। जिसे दर्ज करते ही आवदेक की सारी जानकारी आ जाएगी।

Powered by Blogger.