CG NEWS : खाद्य अधिकारियों- निरीक्षकों को कोरोना वॉरियर्स घोषित करने की सीएम से मांग

रायपुर। खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति (कार्यपालिक) अधिकारी-कर्मचारी संघ के अध्यक्ष रमेश गुलाटी और कार्यवाहक अध्यक्ष संजय दुबे ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, खाद्य मंत्री अमरजीत भगत सहित मुख्य सचिव, खाद्य सचिव, सामान्य प्रशासन सचिव एवम संचालक खाद्य को ज्ञापन भेजा है। इसके जरिये उन्होंने मांग की है कि खाद्य विभाग के खाद्य नियंत्रक, अधिकारी, सहायक खाद्य अधिकारी सहित खाद्य निरीक्षकों को कोरोना वॉरियार की श्रेणी में शामिल किया साथ ही स्वास्थ्य, पुलिस, स्वक्षछताकर्मी की तरह 50 लाख का बीमा कवर और कार्य के दौरान संक्रमित होने के बाद मृत्यु होने पर 50 लाख रुपये के एक्स ग्रेसिया भुगतान किया जाए। 

संघ के अध्यक्ष द्वय ने जानकारी दी है कि खाद्य विभाग के द्वारा पिछले साल के मार्च महीने से आज तक लॉकडाउन की अवधि में सार्वजनिक वितरण प्रणाली अंतर्गत प्रदेश के 96 लाख परिवारों को राशन सामग्री उपलब्ध कराने का चुनौतीपूर्ण कार्य करने के लिए वे लोग भीड़ में जा रहे हैं।

इसके अलावा पेट्रोल, डीजल, घरेलू गैस, केरोसिन की आपूर्ति को सामान्य बनाए रखने के लिए ऐसे स्थानों पर उपस्थित रहते हैं। लॉकडाउन अवधि में मूल्य नियंत्रण और जीवन उपयोगी वस्तुएं जिसमें सब्जी, फल भी शामिल हैं, उनकी उपलब्धता बनाए रखने के लिए बाजार में उपस्थिति देते हैं। इस कारण विभाग के अधिकारियों और निरीक्षकों के संक्रमित होने का सतत खतरा बना रहता है।

खाद्य विभाग के एक सहायक खाद्य अधिकारी शाहनवाज खान की ऐसे ही दायित्व निर्वाह में असामयिक मृत्यु हो गयी है, जबकि 15 से अधिक अधिकारी-निरीक्षक संक्रमित हो गए हैं। ऐसे में राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, खाद्य मंत्री अमरजीत भगत, मुख्य सचिव अमिताभ जैन, प्रमुख सचिव सामान्य प्रशासन, खाद्य सचिव कमलप्रीत एवम संचालक खाद्य अभिनव अग्रवाल को ज्ञापन भेजकर स्वास्थ्य कर्मी, पुलिसकर्मी और स्वास्थ्य कर्मी जैसे लोकसेवकों के समान ही खाद्य विभाग के अधिकारियों, निरीक्षकों को कोरोना वारियर्स घोषित करने तथा 50 लाख रुपये का बीमा कवर एवम कार्य के दौरान मृत्यु होने पर 50 लाख रुपये का एक्स ग्रेसिया देने की घोषणा करने संबंधी ज्ञापन प्रेषित किया है .

Powered by Blogger.