CORONA CURFEW : मध्य प्रदेश के 6 जिलों में बढ़ा 3 मई तक कोरोना कर्फ्यू, इंदौर का कर्फ्यू बढ़ाने को लेकर एक-दो दिन में होगा निर्णय


भोपाल। मध्य प्रदेश सरकार हर हाल में कोरोना संक्रमण की कड़ी को तोड़ना चाहती है। ऐसे में संक्रमण की स्थिति को देखते हुए भोपाल, रतलाम सहित छह जिलों ने फिलहाल तीन मई तक कोरोना कर्फ्यू की अवधि बढ़ा दी गई है। इसके बाद संक्रमण की स्थिति को देखते हुए जिला आपदा प्रबंधन समितियां आगे की रणनीति तय करेंगी। ऐसे में अब संभावना है कि इंदौर में कर्फ्यू बढ़ाने को लेकर एक-दो दिन में निर्णय हो सकता है। भोपाल के अलावा रतलाम, छिंदवाड़ा, सागर, गुना और जबलपुर में तीन मई तक कर्फ्यू रहेगा। शनिवार और रविवार को कर्फ्यू आगामी आदेश तक प्रभावी है। इन जिलों के प्रशासन ने अपने स्तर पर इसको लेकर आदेश जारी किए हैं।

मुख्यमंत्री सचिवालय के अधिकारियों का कहना है कि तीन मई को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जिलेवार समीक्षा करेंगे। संक्रमण की स्थिति का आकलन करने के बाद तय किया जाएगा कि कर्फ्यू को किस रूप में जारी रखना है। दरअसल, मुख्यमंत्री की समीक्षा में यह बात सामने आई है कि कर्फ्यू के बेहतर परिणाम आए हैं। कोरोना संक्रमण की औसत संक्रमण दर में कमी आनी शुरू हुई है।

खंडवा, बुरहानपुर, छिंदवाड़ा जिले में इसका काफी लाभ हुआ हुआ। इंदौर और भोपाल में संक्रमितों की संख्या लगभग स्थिर हो गई है। बताया जा रहा है कि संक्रमण की रोकथाम के लिए स्थनीय परिस्थिति को देखते हुए कर्फ्यू की अवधि निर्धारित होगी। वैसे सरकार लंबे समय तक एक साथ इसे बढ़ाने के पक्ष में नहीं है क्योंकि इससे आर्थिक गतिविधियां प्रभावित होती हैं।

30 अप्रैल तक आएंगे 95 हजार रेमडेसिविर इंजेक्शन

कोरोना की रोकथाम के लिए सरकार लगातार संसाधन मुहैया करा रही है। इसके तहत अब तक 1.88 लाख रेमडेसिविर इंजेक्शन प्रदेश आ चुके हैं। 30 अप्रैल तक 95 हजार इंजेक्शन और मिलने की संभावना है। केंद्र सरकार से इसे डेढ़ लाख करने का अनुरोध किया गया है। सीएम ने बताया कि शनिवार को निजी आपूर्ति के 10,940 इंजेक्शन जिलों को बांटे गए। जिलों को दवा के लिए 13.64 करोड़ दिए गए है।



Powered by Blogger.