MP : रेमडेसिव‍िर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले आरोपी इंदौर क्राइम ब्रांच की गिरफ्त में


इंदौर। रेमडेसिव‍िर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले इंदौर क्राइम ब्रांच की गिरफ्त में आ गए हैं। थाना क्राइम ब्रांच इंदौर व थाना बाणगंगा की संयुक्त कार्यवाही में कुल 4 आरोपी मौके से गिरफ्तार क‍िए गए हैं। चारों आरोपीगणों से मौके से कुल 5 रेमडेसिव‍िर इंजेक्शन, एक कार एवं 60,650 रुपए जब्‍‍त क‍िए गए।

जानकारी के अनुसार ये लोग जरूरतमंद एवं आम जनता की मजबूरी का फायदा उठाकर ब्लैक मार्केटिंग करते थे। रेमडेसिव‍िर इंजेक्शन को ऊंची कीमतों पर बेचने का प्रयास किया जा रहा था। जप्तशुदा इंजेक्शन की कीमत करीब 50,000 रुपये बताई गई है। आरोपी प्रायवेट अस्पतालों मे काम करने वाले मेल नर्स हैं।

थाना क्राइम ब्रांच टीम को मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई कि थाना बाणगंगा क्षेत्र में लव कुश चौराहे के आसपास एक सफेद रंग की आल्टो कार क्रमांक MP-33/C-6765 में चार लड़के जो कि मेल नर्स व होम आईसोलेशन वाले पेशेंट के प्राइवेट केयर टेकर का भी काम करते हैं अपने पास रखे रेमडेसिव‍िर इंजेक्शनों को विक्रय करने हेतु ग्राहकों एवं मरीजों की तलाश मे हैं ।

टीम ने थाना बाणगंगा के साथ संयुक्त कार्यवाही करते मुखबिर के बताए स्थान लवकुश चौराहा सर्विस रोड पर शमसान के सामने कार को घेरा बंदी कर पकड़ा। ड्रायवर सीट पर बैठे व्यक्ति ने अपना नाम संदीप ओझा पिता रामजीवन ओझा उम्र 32 साल निवासी ए-1/101 ,करोल बाग सांवेर रोड इन्दौर स्थाई पता- श्री आनंदपुर ट्रस्ट सुखपुर अस्पताल तहसील ईशागड जिला अशोकनगर (म.प्र.) होना बताया इसके अतिरिक्त उसके साथ बैठे तीन अन्य व्यक्ति ने अपने नाम क्रमशः चिरंजीव भारव्दाज पिता रूपसिंह उम्र 29 साल निवासी सिल्वर सी-1 करोल बाग थाना बाणगंगा जिला इन्दौर एवं हरिराम केवट पिता गणेश राम केवट उम्र 26 साल निवासी 501 हरसिंगार बिल्डिंग बाणगंगा जिला इन्दौर एवं सोनू बैरवा पिता कन्हैया बैरवा उम्र 26 साल निवासी करोल बाग सी-1/613 थाना बाणगंगा जिला इन्दौर । चारों व्यक्तियों की तलाशी लेते उनके कब्जे से कुल 5 नग रेमडेसिवीर इंजेक्शन वायल की कीमत करीब 50,000 रूपए एवं चार नग मोबाइल हैंडसेट एवं नगदी रूपए कुल 60,650 रूपए बरामद हुए ।

Powered by Blogger.