MP : कोरोना कर्फ्यू मे बढ़ाई गई और भी सख्ती : किराना, दूध, रसोई गैस ही सिर्फ मिलेगा होम डिलीवरी, और भी हुए बदलाव, पढ़िए पूरी खबर...

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

ग्वालियर। बढ़ते कोरोना के संक्रमण के बीच कोरोना कर्फ्यू में ढिलाई की स्थिति सामने आने के बाद बुधवार को कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने सख्ती बढ़ाते हुए धारा 144 का संशोधित आदेश जारी कर दिया है। अब आज से किराना, दूध, रसोई गैस ही सिर्फ होम डिलीवरी से मिल सकेगा। किराना की दुकान जो सुबह सात से नौ बजे तक खोली जा रही थीं, वह अब बंद कर दी गई हैं। वहीं अंत्येष्टि व गंगभोज में अब सिर्फ पांच लोग ही शामिल हो सकेंगे। लोक परिवहन को पूरी तरह बंद कर दिया गया है। शादी समारोह का आयोजन प्रतिबंधित ही रहेगा।

ज्ञात रहे कि कोरोना कर्फ्यू को लेकर शहर में कुछ दिनों से सिर्फ खानापूर्ति जैसी स्थिति दिख रही थी। न पुलिस फोर्स चेकिंग कर रहा था न ही प्रशासन सख्ती दिखा रहा था। वहीं खुली जेल का पालन और अनावश्यक घूमने वालों पर प्रतिबंध नहीं लगाया जा रहा था। बुधवार को ही महिला एवं बाल विकास विभाग के प्रमुख सचिव अशोक शाह ने ग्वालियर में अधिकारियों की बैठक ली और कोरोना कर्फ्यू को लेकर सख्ती से पालन कराने के निर्देश दिए थे। शाम को मुख्यमंत्री की वीडियो कांफ्रेंसिंग में भी यही निर्देश मिले थे कि कर्फ्यू का सख्ती से पालन हो।

आज से यह बदलाव लागू

-सभी किराने की दुकानें बंद रहेंगी।

-सभी प्रकार की होम डिलीवरी किराना, दूध, अखबार, दवा, गैस सिलिंडर को छोड़कर प्रतिबंधित रहेगी। दवा की दुकानें भी खुली रहेंगी।

-ऑटो रिक्शा, सार्वजनिक सवारी वाहनों का आवागमन प्रतिबंधित रहेगा।

-कंसट्रक्शन गतिविधियां ऐसे क्षेत्र में ही की जा सकेंगी, जहां मजदूर कंसट्रक्शन कैंपस में रुके हों। अन्य क्षेत्रों में कंसट्रक्शन गतिविधियां बंद रहेंगी।

-अंतिम संस्कार, उठावनी व गंगभोज में पांच ही व्यक्ति शामिल हो सकेंगे।

-उपार्जन केंद्र, पीडीएस की दुकानें खुली रहेंगी। भीड़ नियंत्रण के लिए जिला आपूर्ति अधिकारी व्यवस्था देखेंगे।

-बैंकों में संबंधित क्षेत्र के इंसीडेंट कमांडर, पुलिस अधिकारी व बैंक प्रबंधन बैंकों के बाहर गोले बनाकर बैंक में आने वाले व्यक्तियों के बीच शारीरिक दूरी का पालन कराएंगे।

प्रमुख सचिव ने कहा तो तत्काल जारी हुआ आदेशः बुधवार को महिला एवं बाल विकास विभाग के प्रमुख सचिव अशोक शाह ने ग्वालियर में अधिकारियों की बैठक ली, जिसमें अधिकारियों से कहा कि यहां सख्ती और बढ़ाना चाहिए। तत्काल अनावश्यक आवाजाही को बंद किया जाए। प्रमुख सचिव की बैठक के बाद शाम को ही अधिकारियों ने संशोधित आदेश तैयार किया और जारी भी कर दिया।

आज से ज्यादा सख्ती का दावाः आज से सड़कों पर पुलिस और प्रशासन ने ज्यादा सख्ती का दावा किया है। अनावश्यक घूमने वालों पर सख्त कार्रवाई की जा सकती है। सभी इंसीडेंट कमांडरों और पुलिस अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि कहीं भी अनावश्यक भीड़ नहीं दिखना चाहिए।

Powered by Blogger.