सीधी CMHO की बड़ी कार्यवाही : पांच स्टाफ नर्स और 7 सपोर्ट स्टाफ को किया गया टर्मिनेट

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

सीधी। देश प्रदेश के बाद सीधी जिले में भी कोरोना का खौफ तेजी से बढ़ रहा है। आलम है कि जानलेवा हो चुके कोरोना के डर से 5 स्टाफ नर्स और 7 सपोर्ट स्टाफ कुल 12 स्वास्थ्य कर्मी अपनी-अपनी ड्यूटी नहीं आ रहे थे। नतीजन सीधी CMHO डॉ. बीएल मिश्रा ने उन्हे 5 मई की देर शाम निष्कासित करने के आदेश जारी किए है।


5 मई को जारी सीधी सीएमएचओ का आदेश


बता दें कि मिशन संचालक राष्ट्रीय स्वास्थ मिशन ने 17 अप्रैल को प्रदेश के सभी CMHO को एक आदेश जारी किया था। कहा था कि जिन जिलों में कोविड 19 महामारी के संक्रमण की रोकथाम में स्वास्थ्य कर्मी नियुक्त है वे अपनी प्रापर ड्यूटी कर रहे है अथवा नहीं। इसी आदेश के मददेनजर सीधी CMHO ने जांच कराई तो 12 कर्मचारी अनुपस्थित पाए गए।

जिनकी ड्यूटी डीसीएचसी, सीसीसी नर्सिंग कालेज, आईसीयू, फीवर ​क्लीनिक में लगाई गई थी। वे सभी अपने कार्य स्थल से उपस्थित नहीं थे। ऐसे में स्टाफ नर्स व सपोर्ट स्टाफ का नियोजन तत्काल प्रभाव से समाप्त कर दिया गया।

इनको किया गया निष्कासित

सीएमएचओ डॉ. बीएल मिश्रा ने जिनको निष्कासित किया है उनमे स्टाफ नर्स नीलम पटेल, स्टाफ नर्स प्रियंका पटेल, स्टाफ नर्स नीलू पटेल, स्टाफ नर्स पुष्पा पटेल, स्टाफ नर्स गायत्री पटेल, सपोर्ट स्टाफ चन्द्रकांत पाण्डेय, सपोर्ट स्टाफ सुनील कुमार तिवारी, सपोर्ट स्टाफ अजय कुमार दीपांकर, सपोर्ट स्टाफ सचिन कुमार कुशवाहा, सपोर्ट स्टाफ रवि शर्मा, सपोर्ट स्टाफ जीतेन्द्र कुमार लोनी और सपोर्ट स्टाफ दीपक गुप्ता शामिल हैं।


ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या गूगल न्यूज़ या ट्विटर पर फॉलो करें. www.rewanewsmedia.com पर विस्तार से पढ़ें  मध्यप्रदेश  छत्तीसगढ़ और अन्य ताजा-तरीन खबरें

विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें  7694943182, 6262171534

Powered by Blogger.