Akshaya Tritiya 2021 : अक्षय तृतीया के दिन भूलकर न करें ये काम, जानिए इस दिन का महत्व

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

हिंदू धर्म में अक्षय तृतीया (Akshaya Tritiya) का दिन बहुत महत्वपूर्ण होता है. हर साल वैशाख महीने के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को अक्षय तृतीया का त्योहार मनाया जाता है. इस दिन भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा अर्चना की जाती है. इस दिन लोग दान- पुण्य के करते हैं. इस दिन सोने- चांदी की खरीदारी की जाती है. मान्यता है कि इस दिन सोना खरीदने से घर में माता लक्ष्मी का वास होता और घर में बरकत होती है.

हिंदू पंचांग के अनुसार, अक्षय तृतीया का दिन बहुत शुभ माना जाता है. इस दिन ग्रह प्रवेश, शादी आदि शुभ कार्य किए जाते हैं. इस बार अक्षय तृतीया 14 मई को पड़ रही है. आइए जानते हैं इस दिन किन कार्यों को नहीं करना चाहिए. जिससे माता लक्ष्मी नाराज हो सकती हैं.

बिना नहाएं तुलसी के पत्ते न तोड़ें

अक्षय तृतीया के दिन भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा की जाती हैं. भगवान विष्णु को तुलसी के पत्ता बेहद प्रिय है. इस दिन बिना नहाएं तुलसी के पत्ते न तोड़ें. ऐसा करने से मां लक्ष्मी नाराज हो जाती हैं.

गुस्सा न करें

अक्षय तृतीया के दिन जो लोग व्रत रखते हैं उन्हें गुस्सा नहीं करना चाहिए. माना जाता है कि इससे पूजा सफल नहीं होती है. इस दिन न किसी को कुछ बुरा कहें. इस तरह की बुरी आदतों से बचें.

खाली हाथ घर न जाएं

अक्षय तृतीया के दिन सोने – चांदी से बनी कोई वस्तु जरूर खरीदना चाहिए. अगर आप सोना नहीं खरीद सकते हैं तो किसी भी धातु की चीज जरूर खरीदें.

निर्माण न कराएं

अक्षय तृतीया के दिन नया घर खरीदना शुभ माना गया है. लेकिन इस दिन किसी भी तरह का निर्माण कराना अशुभ माना गया है.

अक्षय तृतीया का महत्व

मान्यताओं के अनुसार, इस दिन हर कार्य को करने में सफलता मिलती है. ये बात स्वयं माता पार्वती ने धर्मराज को बताया था. उन्होंने कहा,जो भी व्यक्ति अक्षय तृतीया के दिन विधि- विधान से भगवान विष्णु और माता पार्वती की पूजा करते हैं उनकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है. निसंतान लोगों को संतान की प्राप्ति होती है.

Powered by Blogger.